मातृत्व के बारे में आधुनिक मिथकों में से एक यह है कि बच्चे होने से आपके करियर को नुकसान होगा. महिलाओं को बताया जाता है कि हमें अपनी नौकरी या अपने बच्चों के बीच चयन करने की आवश्यकता है.

कामकाजी माता होना कोई अनोखी बात नहीं, अब नियम हैं. महिलाएं न केवल करियर की संतुष्टि के लिए कार्यबल में आगे बढ़ रही हैं, बल्कि इसलिए भी कि उन्हें और उनके परिवारों को आय की आवश्यकता है. लगभग तीन-चौथाई माताएँ अब ,राष्ट्रीय सांख्यिकी के कार्यालय के अनुसार, पूर्ण या पार्ट टाइम तौर पर काम कर रही हैं. यह आधुनिक मातृत्व और पारिवारिक जीवन के रूप से बदलते परिदृश्य का नवीनतम बदलाव है.

ज़रूरी है यह जानना कि कामकाजी माताएं कैसे अपने बच्चों का ख्याल रख सकती है. और अपने बच्चों के स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के लिए किन चीज़ों का उपयोग कर सकती हैं.

स्वास्थ्य सुनिश्चित करें

चीज़ों के उपयोग की बात तो ठीक है, सबसे पहले उन्हें बिजली उपकरणों से दूर रखना चाहिए. उन पर नज़र रखने का उपकरण कि कितनी देर मोबाइल व टी.वी. पर नज़रें गड़ाएं है. घर पर बच्चे को छोड़ कर जा रही है, तो उसके साथ कौन है. बच्चों को हैंड सांइटिज़ेर का उपयोग भी सिखाये ताकि स्कूल में इस्तेमाल कर सकें.

खिलोनें उस पलास्टिक के ही लीजिए, जिसमे ज़हरीले पदार्थ नहीं है. स्वास्थ्य सुनिश्चित करने हेतु, कई प्राकृतिक व रासायिनक पदार्थों से बनी चीज़ों का उपयोग किया जा सकता है. उनसे बातचीत के लिए फ़ोन रखें, पर उसका सही और ज़रूरत के लिए इस्तेमाल सिखाएं.

क्या खिलाएं अपने बच्चों को?

बच्चों को प्रोसेस्ड फूड और स्नैक्स के सेवन से बचना चाहिए. ये परिष्कृत शर्करा की एक अतिरिक्त मात्रा के साथ भरी हुई हैं. इनका सेवन उनकी प्रतिरक्षा प्रणाली को खराब कर सकता है, समय के साथ उनके स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है.

प्राकृतिक व उनप्रोसेस्सड खाद्य पदार्थ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिन्हें बदला नहीं गया. वह अपने शुद्धतम रूप में हैं, पूरी तरह से प्राकृतिक और स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हैं. फल, सब्ज़ियाँ, प्राकृतिक चीनी की चीज़ें जैसे शहद और घर बने स्नैक्स ज़्यादा से ज़्यादा खिलाएं.

यात्रा की वस्तुएं

आपकी सबसे बड़ी चिंताओं में से एक यह हो सकता है कि यात्रा के दौरान सर्वश्रेष्ठ बच्चे यात्रा की वस्तुएं कैसे हों और अपने बच्चों को सुरक्षित और खुश कैसे रखें.

कुछ प्रोडक्ट्स जैसे क्रिब, बेबी वाइप्स, बेबी कैरियर, सैनिटाइज़र व स्टरलाइज़र अदि रखें. कोमल कंबल व डाइपर्स भी आवश्यक है. यदि आपके पास कार है, तो कार सीट भी काफी लाभदायक प्रोडक्ट है.

उच्च गुणवत्ता वाले बच्चे की देखभाल के लिए

  • बच्चों के लिए व्यापक शिक्षा और विकास के लक्ष्य, संकीर्ण शैक्षणिक से परे जाकर सामाजिक, भावनात्मक, सांस्कृतिक, कलात्मक और भौतिक लक्ष्यों के लिए साक्षरता और संख्यात्मकता जैसे लक्ष्य.
  • एक दृष्टिकोण जो “बच्चों को बच्चे रहने देना” का अर्थ है कि खेल के माध्यम से सीखना और कलात्मक, सांस्कृतिक, संज्ञानात्मक, सामाजिक और शारीरिक गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला का अनुभव करना.
Email us at connect@shethepeople.tv