टेक्नोलॉजी ने हमारी जीवन शैली में जिस परिवर्तन का आगमन किया है, उसे हम सभी सराहते हैं। साथ ही, सभी लोग इसका बढ़-चढ़कर लाभ उठा रहे हैं। सोशल मीडिया, जो हमारी ज़िंदगी का अब एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है, वह भी टेक्नोलॉजी की ही देन है। ख़ास बात तो यह है कि सोशल मीडिया के क्षेत्र में पितृसत्ता कम देखने को मिलती है। महिलाएं भी सोशल मीडिया का उतना ही इस्तमाल कर रही हैं, जितना पुरुष कर रहे हैं। आज सोशल मीडिया एक बहुत बड़ा यन्त्र बन चुका है। कोई भी व्यक्ति इसके लाभ और प्रभाव से वंचित नहीं है। लेकिन सोशल मीडिया महिलाओं को कैसे सशक्त कर रहा है, इसे देखने की हम सभी को ज़रूरत है।

अपने दृष्टिकोण को सामने रखने का मंच

सोशल मीडिया महिलाओं को अपने दृष्टिकोण और अपनी राय को सामने रखने का एक मंच प्रदान करता है। वह क्या महसूस करती हैं, समाज के बारे में उनकी क्या राय है, किन-किन चीज़ों में वे बदलाव चाहती हैं, यह बातें कीमती हो जाती हैं जब महिलाएं अपने विचारों को सोशल मीडिया पर प्रस्तुत करती हैं। रूढ़िवादी सोच वाले समाज में महिलाओं को अपनी राय रखने का मौका नहीं दिया जाता, लेकिन सोशल मीडिया ने यह कमी पूरी करके, महिलाओं को सशक्त महसूस करवाने में अपना योगदान दिया है।

अन्य महिलाओं को सशक्त करना

सोशल मीडिया के ज़रिये महिलाएं खुद को ही नहीं बल्कि अन्य महिलाओं को भी सशक्त कर रही हैं। वह अपनी प्रगति और उपलब्धियों को जब सोशल मीडिया पर शेयर करती हैं, तो अन्य महिलाएं भी उन्हें देखकर आगे बढ़ने का प्रयास करती हैं। जिसके चलते “वीमेन एम्पावरमेंट” काफी जोरों-शोरों से बढ़ रहा है।

लोगों से जुड़े रहना

महिलाएं अपने काम-क़ाज़ी जीवन में और गृहकार्य करने में हमेशा व्यस्त रहती हैं। उन्हें अपने व्यक्तिगत जीवन की ओर ध्यान देने का समय पुरुषों के मुकाबले काफी कम मिलता है। इसलिए उन महिलाओं के लिए सोशल मीडिया एक यंत्र की तरह है जो उन्हें अन्य लोगों, दोस्तों, रिश्तेदारों, और परिचितों से जुड़े रहने का अवसर देता है। महिला सशक्तीकरण की उपलब्धि, महिलाएं अपने घर में अकेले बैठकर नहीं प्राप्त कर सकतीं। इसलिए उनका समान विचारधारा वाले लोगों से जुड़ा रहना ज़रूरी है।

ज्ञान और अनुभव को प्राप्त करना

सोशल मीडिया के लाभ सिर्फ बातचीत करने और लोगों से जुड़े रहने तक सीमित नहीं हैं। महिलाओं को यहां अपने ज्ञान को बढ़ाने और अनुभव में बढ़ोतरी करने का अवसर मिलता है। समाज में क्या नयी चीज़ें हो रही हैं, क्या बदलाव आ रहे हैं, आदि की जानकारी रखकर महिलाएं अपना ज्ञान का दायरा बढ़ा रही हैं। साथ ही, सोशल मीडिया का इस्तमाल उन्हें एक नया अनुभव प्रदान करता है।

अपनी उपलब्धियों और प्रोग्रेस को शेयर करना

महिलाएं हर तरह से सोशल मीडिया का इस्तमाल कर रही हैं, तो अपनी उपलब्धियों और प्रोग्रेस को शेयर करना कैसे भूलें। सोशल मीडिया पर न सिर्फ हमारे परिचित हमें बधाइयाँ देते हैं, बल्कि अनजान लोग भी आगे बढ़कर सराहते हैं। लाइक्स, कमैंट्स, आदि हमें अच्छा महसूस करवाते हैं। इसलिए, यह ज़रूरी है कि आप खुद भी सशक्त हों और बेहतर समाज कल्याण के लिए अन्य लोग भी इस राह पर चलें।

पढ़िए: मेजर आर्ची आचार्य – भारतीय सेना के सोशल मीडिया को चलाने वाली महिला से मिलिये

Email us at connect@shethepeople.tv