आज कल की प्रतियोगी होड़ में स्वयं को तीव्रता से बनाये रखना काफी मुश्किल है। अपने अस्तित्व को किसी क्षेत्र में स्थापित करना तो उससे भी ज्यादा तकलीफ और जोखिम भरा हो सकता है। अगर हम सिर्फ महिलाओं की चर्चा करें तो कहा जा सकता है कि महिलाएं अभी इस क्षेत्र में कुछ नयीं हैं। हमारे पास महिलाओं को लेकर ऐसा कोई ख़ास इतिहास है नहीं जिसकी तुलना हम पुरुषों से कर सकें। इसलिए महिलाओं के लिए काम करना और खुद का वजूद बनाना बेहद कठिनाईपूर्ण हो सकता है। आईये इसी सन्दर्भ में ऐसी कुछ बातें देखते हैं जो आपको काम-क़ाज़ी महिलाओं से नहीं पूछनी चाहिए।

क्या आप बहुत महत्वकांशी हैं?

लोगों को ऐसा लगता है कि अगर महिलाएं काम पर जाती हैं , तो उसमे कुछ नया है। वे ज्यादातर उसमे महत्वकांशी होने का कोण डाल देते हैं। क्या हम महिलाओं के दफ्तर जाने को, पुरुषों के दफ्तर जाने जितना सामान्य नहीं समझ सकते? जवाब यहां मानसिकता है। कारण चाहे जो भी हो, लेकिन महिलाओं से यह प्रश्न करना कहीं न कहीं उनपर और उनके कौशल पर संदेह करने जैसा है।

क्या आप देर रात तक काम करती हैं?

देर रात तक काम करना कोई फैशन नहीं हैं। यह लोग ज़रूरत के अनुसार करते हैं। इसलिए इस प्रश्न से कभी-कभी ऐसा लगता है कि आप महिलाओं के काम करने को उचित अहमियत नहीं दे रहे हैं। इसलिए इस प्रश्न को हमे काम-क़ाज़ी महिलाओं से पूछने से बचना चाहिए।

क्या आपको अकेले रहना पसंद है?

इस सवाल का जवाब भले ही कुछ लोग हाँ में दे सकते हैं लेकिन इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है कि उन्हें लोगों के साथ रहना या बातचीत करना पसंद नहीं है। सामाजीकरण लोगों की एक जरुरत है चाहे कितने ही अव्वल दर्ज़े का व्यक्ति हो, या कितने ही निचले स्तर पर काम करने वाला व्यक्ति। हो सकता है कोई महिला मजबूरी में अकेली रह रही हों और यह प्रश्न पूछकर आप उनकी समस्याएं और बड़ा दें।

आपके बच्चों को ख्याल कौन रखता है?

मान लीजिये कि जिस काम-क़ाज़ी महिला से आप यह प्रश्न कर रहें हैं, वह एक माँ भी है। यह हम सभी जानते हैं कि जो माताएं काम करतीं हैं वे काफी व्यस्त दिनचर्या बिताती हैं। यह जाहिर सी बात है कि वे एक घर में रहनी वाली माता के मुकाबले कम समय अपने बच्चों के साथ व्यतीत करती होंगी। इसलिए आपका यह प्रश्न उनकी प्रबंधन क्षमता और जिम्मेदारियों को सँभालने से सम्बंधित हो सकता है।

क्या आप स्वतंत्र होना चाहती हैं?

आपका यह प्रश्न अगर थोड़ा सा अलग हो, तो हो सकता है कि सुनने वाली महिला को अच्छा लगे। स्वतंत्र होना कई सन्दर्भों में लिया जा सकता है। कोशिश कीजिये कि आप अपनी बात को स्पष्ट तरीके से पूछें। आप यह पूछ सकते हैं कि क्या वे महिलाएं आत्म-निर्भर होना चाहती हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv