भारत के युवा अपने जुनून को  पूरा करने के लिए ऊँचे पैकेजेस वाली नौकरियां छोड़ रहे हैं। फ्रीलांस काम करने से लेकर, फोटोग्राफी या लेखन जैसे रचनात्मक क्षेत्रों तक या अपने स्वयं का व्यवसाय शुरू करने तक, कोई सपना आज एक अच्छी सैलरी चेक के लालच से बंधा नहीं है। हालांकि, एक पक्की इनकम की कमी आपको मुसीबत में डाल सकती है, क्योंकि वित्तीय संकट आपको आपकी इनकम में स्थिरता के लिए अपने सपनों को पूरा करने से रोक सकता है। लेकिन सभी सपने उचित वित्तीय योजना के साथ प्राप्त होती हैं।

इंडिपेंडेंट फाइनेंसियल एडवाइजर  अमनजोत कौर के अनुसार, कोई भी बड़ा फैसला लेने से पहले तीन बातें ध्यान में रखनी चाहिए।

“पहले, आपके पास एक इमरजेंसी फण्ड  होनी चाहिए, जो इस बात पर निर्भर करती है कि आप अपनी नौकरी छोड़ने के बाद क्या करने की योजना बना रहे हैं और आपके परिवार से आपको आपके इस फैसले पर किस तरह का समर्थन मिलता है। यदि आपके पास अपने परिवार की देखभाल करने के लिए एक पक्की इनकम  है, तो यह ठीक है। नहीं तो आपको इमरजेंसी फण्ड की ज़रूरत होगी जो एक वर्ष आपके  के रोज़मर्रा खर्चों को कवर कर सके। ”

यह ज़रूरी है क्योंकि धन की कमी आपको आपके सपनो को पूरा करने से रोक सकती है और आपको कंफ्यूज कर सकती है।

तपसी ढांडा, जो एक नॉन -प्रॉफिट आर्गेनाईजेशन के एक प्रमुख कंटेंट हेड के रूप में काम करती थी , ने एक साल पहले फ्रीलांसिंग शुरू की थी। यह यात्रा आसान नहीं रही। वह याद करती हैं, “मेरे कैरियर की शुरुआत में नौ से पांच की नौकरी करने का मुख्य कारण यह था, क्योंकि यह एक स्थिर तनख्वाह पाने का सबसे आसान तरीका है। हालांकि मुझे पता है कि मैं पूरी तरह से इसका आनंद नहीं लेती हूँ। ऐसा नहीं था कि मैंने जो किया उसमे मुझे मज़ा नहीं आया, लेकिन यह नौ से पांच दिनचर्या ही थी जो मेरे लिए एक समस्या थी। केवल पिछले फरवरी में, जब मैंने आखिरकार अपनी नौकरी छोड़ दी, तो मैंने  ईमानदारी से फ्रीलांसिंग करने का फैसला किया। ”

हालाँकि, उनके पास बहुत कम फंड्स थे जब उन्होंने फ्रीलांसर बनने का फैसला किया। “मेरे पास जो भी थोड़ा पैसा था वह मैंने अपने पिछले वेतन चेक से बचा लिया था। अपनी आखिरी नौकरी छोड़ने के बाद पैसे मेरा तीन महीने तक का खर्चा बनाए रखने के लिए काफी थे। उसके बाद मैं एक स्थिर नौकरी करने के लिए पूरी तरह से तैयार थी क्योंकि अचानक मेरा बैंक बैलेंस बहुत कम हो रहा था और मुझे इसके बारे में कुछ करना था। ”

मेरा अपने कैरियर की शुरुआत में  नौ से पांच की नौकरी में रहने का मुख्य कारण था एक स्थिर तनख्वाह और यही एक स्थिर तनख्वाह पाने का सबसे आसान तरीका है। – तपसी ढांडा

कौर के अनुसार, दूसरी बात यह है की भविष्य में कभी भी कोई भी मेडिकल एक्सपेंस कभी भी आ सकता है। मेडिकल इमरजेंसी और कभी भी कोई भी दुर्घटना हमारे जीवन में कभी भी हो सकती  हैं। खासकर पक्की इनकम न होने पर इनसे निपटने के लिए हमेशा आर्थिक रूप से तैयार रहना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘ये चीजें जरूर होनी चाहिए, भले ही आप अपने पैशन को आगे बढ़ाने के लिए अपना पैसा इस्तेमाल कर रहे हों। मिसाल के तौर पर, भले ही आप अपने स्टार्टअप के लिए जो कुछ भी हासिल कर रहे हैं, उसमें आप अपने इमरजेंसी फंड को अलग रखें। इस तरह से आपको मानसिक शांति मिलेगी। “

Email us at connect@shethepeople.tv