हमेशा से ही रूढ़ियों को तोड़ते हुए, आलिया भट्ट ने स्टूडेंट ऑफ द ईयर से गली बॉय तक का लंबा सफर तय किया है। उन्होंने साबित कर दिया है कि वह एक सुंदर चेहरे या बस एक आकर्षक अभिनेत्री नहीं उससे बहुत अधिक है। आलिया ने अपने अभिनय का कौशल हर जगह साबित किया है। आज आलिया बॉलीवुड का एक ख़ास चेहरा हैं और उन कुछ अभिनेत्रियों में से जिन्होंने बिना किसी बड़े हीरो के 100 करोड़ की फ़िल्म दी है। तो, यहां आलिया भट्ट द्वारा निभाए गए सात सबसे शक्तिशाली रोल्स के बारे में जानते हैं।

राज़ी में सहमत

मेघना गुलजार द्वारा निर्देशित फिल्म राज़ी 2018 की सबसे बड़ी हिट फिल्मों में से एक थी। आलिया भट्ट द्वारा निभाया गया किरदार सेहमत पाकिस्तान में काम करने वाली एक भारतीय जासूस थी। सेहमत एक साधारण लड़की थी जिसे जासूसी के लिए चुना गया और ट्रेन किया गया। आलिया ने डर, प्यार, देशभक्ति आदि सभी भावनाओं को बड़े पर्दे पर बड़ी आसानी से दिखाया ।राज़ी ने 207 करोड़ का शानदार बॉक्स ऑफिस कलेक्शन किया।

गली बॉय में सफीना

इस साल रिलीज़ हुई, गली बॉय 2019 की अब तक की सबसे सफल फिल्मों में से एक है। फिल्म का निर्देशन जोया अख्तर ने किया था, जिन्होंने इस धारणा को तोड़ा कि सिल्वर स्क्रीन पर अमीर लोगों के जीवन से बड़ी भूमिका को ब्लॉकबस्टर बनाया जाता है। फिल्म की कहानी झुग्गियों में रहने वाले लोगों के जीवन, उनके संघर्ष, समाज में स्थिति और जीवन के प्रति उनके दृष्टिकोण पर आधारित है। आलिया द्वारा निभाई  गयी सफीना एक निडर डॉक्टर है, जो बहुत बहादुर है। सफीना ने रणवीर सिंह द्वारा निभाए गए अपने प्रेमी मुराद के लिए अपनी स्वाभाविक भावुकता के कारण दर्शकों को स्क्रीन से बांधे रखा। सफेना और अल्बिना के बीच लड़ाई फिल्म का मुख्य आकर्षण था। आलिया का स्वाभाविक अभिनय सभी को पसंद आया। गली बॉय बॉक्स ऑफिस पर 220 करोड़ का आंकड़ा पार करने में कामयाब रही।

उडता पंजाब में पिंकी

यह फिल्म आलिया के करियर की सबसे अच्छी फिल्मों में से एक है। विवादों से घिरी , उडता पंजाब 2016 में रिलीज हुई। यह फिल्म पंजाब के ड्रग माफिया पर आधारित थी, जो सीमा पार के रैकेट थी। कैसे ड्रग्स के कारण पूरी तरह से अलग-अलग लोगो का जीवन बर्बाद हो जाता हैं। आलिया द्वारा निभाई गई पिंकी बिहार के एक छोटे से गाँव की हॉकी प्लेयर थी, जो भारतीय हॉकी टीम में शामिल होने के लिए अपने घर से भाग गई थी। दुर्भाग्य से, वह शातिर ड्रग रैकेट में शामिल हो जाती है। उनकी यात्रा, उनके द्वारा सहीं गई मुसीबते, बार-बार नशीली दवाओं के दुरुपयोग और उस ड्रग माफिया से दूर उनका भागना आलिया द्वारा अच्छे से निभाया गया है। आलिया अपने भोजपुरी लहजे में, पिंकी के दर्द के ज़रिये  दर्शकों से जुड़ी और यह फिल्म आलिया द्वारा सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक बन गई।

हाईवे में वीरा

इम्तियाज अली निर्देशित हाईवे (2014) जीवन की यात्रा और खुद को पाने  की एक फिल्म थी। वीरा ने आलिया का किरदार निभाया था, जो चुप -चाप सी थी। वीरा का विवाह से पहले अपहरण हो जाता है जो वीरा के लिए वरदान साबित होता है। एक चुपचाप सी वीरा ने इस असामान्य यात्रा में अपने लिए नई आजादी, जीवन के अनुभव और अपने सपने हासिल किये। फिल्म का सबसे अच्छा हिस्सा वो था जब वीरा अपने बचपन में अपने चाचा के द्वारा किये गए यौन शोषण के बारे में बात करती है। इस विशेष दृश्य ने दिल जीत लिया और आलिया के अभिनय ने इस फिल्म में चार चाँद लगा दिए।

डिअर जिंदगी में कायरा

2016 में रिलीज़ हुई आलिया और शाहरुख खान की फिल्म जिसे गौरी शिंदे ने  डायरेक्ट किया था । शाहरुख जैसे मेगा स्टार के साथ कास्ट होने के बाद भी, आलिया ने फिल्म में काफी वाह वाही बटोरी। कई ख़राब रिश्तों से गुजरने के बाद और अपने करियर में असफलता के बाद, कायरा वो किरदार है जो  आलिया ने निभाया था जिसे इंसोम्निया हो जाता है और वो शाहरुख द्वारा निभाए गए एक मनोचिकित्सक डॉ जहांगीर खान के पास जाती है। यह फिल्म इस पीढ़ी की मशहूर और प्रगतिशील फिल्मों में से एक है क्योंकि यह मेन्टल हेल्थ और डिप्रेशन के बारे में खुलकर बात करती है। अपनी मानसिक शांति की तलाश में डिप्रेशन से जूझ रही कायरा, आलिया द्वारा एक खूबसूरत किरदार है।

कपूर एंड संस में टिया

2016 में रिलीज़ हुई, शकुन बत्रा की कपूर एंड संस को सिल्वर स्क्रीन पर समलैंगिक समुदाय के लोगों के साथ सामान्य जीवन समस्याओं के रूप में दिखाया गया। फिल्म ने अतीत में समलैंगिक पात्रों द्वारा निभाई जाने वाली हसी वाली भूमिकाओं की धरना को तोड़ दिया। आलिया द्वारा निभाया गया किरदार टिया एक अम्बिशयस लड़की थी। उनकी इस फिल्म में बाकियों के मुकाबले छोटी भूमिका थी लेकिन दर्शकों पर उस भूमिका ने दर्शको पर एक अच्छा प्रभाव डाला। एक विमान दुर्घटना में अपने माता-पिता को खोने के बाद अपने प्रियजनों को प्यार करने का संदेश देते हुए टिया, इस फिल्म के ज़रिये दर्शकों के साथ भावनात्मक रूप से जुड़ी थी।

बद्रीनाथ की दुल्हनिया में वैदेही

बद्रीनाथ की दुल्हनिया मसाला और बॉलीवुड मनोरंजन का एक भरपूर पैकेज था। केवल आकर्षक बॉलीवुड गाने और बॉलीवुड रोमांस के अलावा भी इसमें बहुत कुछ था। आलिया द्वारा निभाया गया वैदेही का किरदार एक कैरियर-ओरिएंटेड, स्वतंत्र और मजबूत दिमाग वाली लड़की थी। प्यार में पड़ने के बाद भी वैदेही ने अपने करियर को चुना और एयर होस्टेस बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए चली गई। विवाह को तोड़कर और अपना घर बसाने की जगह, वह अपने करियर का निर्माण करके आर्थिक रूप से स्वतंत्र होना चुनती है। इस फिल्म में आलिया को एक करियर ओरिएंटेड महिला का किरदार सराहनीय था, जिससे यह साबित होता है कि आपके सपने का पालन करना गलत नहीं है या किसी की पत्नी होने के बजाय  करियर ओरिएंटेड महिला होना गलत नहीं है ।

Email us at connect@shethepeople.tv