स्टार बैट्समैन स्मृति मंधाना वन-डे इंटरनेशनल मैचों में 2,000 रन बनाने वाली दूसरी सबसे तेज भारतीय बन गई हैं। इससे उन्होंने अपने करियर में एक और सफलता हासिल कर ली है ।

बाएं हाथ की बल्लेबाज मंधना ने बुधवार को सर विवियन रिचर्ड्स स्टेडियम में खेले गए वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे और अंतिम वनडे के दौरान यह उपलब्धि हासिल की, जिसे भारत ने छह विकेट से जीता।

मंधाना ने 74 रनों की पारी खेली और जेमिमाह रोड्रिग्स के साथ मिलकर 141 रनों की शुरुआती पार्टनरशिप की, क्योंकि भारतीय ईव्स ने 195 रन के लक्ष्य का आसानी से पीछा किया, जिससे तीन मैचों की वन -डे सीरीज में वह  2-1 से आगे हो गई।

23 वर्षीय स्मृति ने इस उपलब्ब्धि को  हासिल करने के लिए  बेलिंडा क्लार्क और मेग लैनिंग को पीछे छोड़ा । इनके बाद वह तीसरी सबसे तेज महिला बन गई है । उन्होंने 2,000-वनडे रन की संख्या तक पहुंचने के लिए 51 पारियां ली हैं। उन्होंने अब तक 51 वनडे में 43।08 की औसत से 2,025 रन बनाए हैं। उन्होंने अपने वनडे करियर में अब तक चार शतक और 17 अर्द्धशतक बनाए हैं।

शिखर धवन 50 ओवर के क्रिकेट में रिकॉर्ड 2,000 रन बनाने वाले एकमात्र अन्य भारतीय हैं। वह 48 पारियों में इस लैंडमार्क तक पहुंच गए थे। जबकि विराट कोहली ने 53 पारियों में इसे हासिल किया।

ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क 2,000 वनडे रन बनाने वाले सबसे तेज़ बल्लेबाज़ होने का रिकॉर्ड रखती है। उन्होंने 41 पारियां खेली थीं और उनके बाद टीम की खिलाड़ी मेग लैनिंग हैं, जिन्हें इस लैंडमार्क तक पहुंचने के लिए 45 पारियों की आवश्यकता थी।

पुरुषों के क्रिकेट में, दक्षिण अफ्रीका के रिटायर्ड बल्लेबाज हाशिम अमला 2,000-वनडे रन बनाने के लिए सबसे तेज होने का गौरव रखते हैं। उन्होंने 40 पारियों में इस सफलता को हासिल किया था।

भारत को अपनी इस बेटी पर गर्व है । अपनी इस उपलब्धि से स्मृति ने भारत के दिग्गज बल्लेबाज़ विराट कोहली को भी पीछे छोड़ दिया है ।

Email us at connect@shethepeople.tv