वायु प्रदूषण लंबे समय तक भारत में एक समस्या रहा है। एमआईटी प्रौद्योगिकी समीक्षा में कहा गया है कि भारत का वायु प्रदूषण दुनिया में सबसे खराब और सबसे घातक है। भारत में दिल्ली सबसे प्रदूषित शहर है। हालात इतने बुरे हैं की दिल्ली में इस समय “प्रदूषण इमरजेंसी” घोषित कर दी गयी है.

ग्रीनपीस इंडिया ने यह भी एक रिपोर्ट जारी कर दी है कि भारत में वायु प्रदूषण से संबंधित १२ लाख लोग मरें हैं.

हम ऐसी स्थिति में हैं जहां स्वच्छ हवा एक आवश्यकता बन गयी है। हम हर समय हानिकारक रसायनों, धुएं से साँस नहीं ले सकते हैं! तो, वायु की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए हम क्या कर सकते हैं?

जब आप सड़कों पर चलते हैं और अपने नाक को ढंकते हैं तो यह बहुत बुरा है. पर इससे भी बुरा तब होता है जब आप अपने घर के अंदर की हवा को भी ताज़ा महसूस नहीं करते.

यहाँ घरों के अंदर की हवा को साफ़ रखने के कुछ उपाय बताये गए हैं.

        इंडोर पौधे लगाएं

  1. आज बाजार में कई पौधे उपलब्ध हैं जो इनडोर हवा को साफ करने में मदद करते हैं। वे हवा से जहरीले रसायनों को साफ करते हैं और आपको शुद्ध ऑक्सीजन देते हैं। सामान्य तौर पर, अधिक वृक्ष और पौधे उगाने से घर की हवा में प्रदूषण का स्तर कम रहता है.

    एग्जॉस्ट फैन चलाएं

  2. जब भी आप खाना बनाते हैं, या स्नान करते हैं तो “एग्जॉस्ट ‘ को चलकर रखें ताकि सभी धुएँ निकल जाएं और अंदर न जाएं। जब आप एक “शावर” लेते हैं, तो सुनिश्चित करें कि “एग्जॉस्ट फैन” चला हुआ है जिससे नमी बाहर निकलती है क्योंकि नमी से हवा ख़राब हो जाती है.

    एयर पूरिफिएर का इस्तेमाल करें

  3. एयर पुरीफियर आजकल आसानी से उपलब्ध हैं। वे मशीनें हैं जो आपके घर से हवा चूसते हैं और स्वच्छ हवा को छोड़ देते हैं। यदि आपको प्रदूषित हवा से एलर्जी है तो यह विशेष रूप से सहायक हो सकता है. अगर आपके पास शिशु या घर पर पालतू भी है तो यह मदद कर सकता है.

    वैक्यूम करें

  4. अपने घर और फर्श को हर दिन  धूल के इकट्ठे होने से बचने के लिए वैक्यूम करें। 

    घर में नो स्मोकिंग जोन बनाएं

  5.  अपने घर को नॉन-स्मोकिंग ज़ोन बनाएं. यदि आप या आपके मित्र धूम्रपान करते हैं तो उन्हें घर से बाहर या छत पर करने के लिए कहें। धूम्रपान न केवल हवा को प्रदूषित करता है बल्कि अस्थमा, कैंसर और अधिक जैसे अन्य रोगों का कारण भी बन सकता है.आप अपने घर की हवा को साफ़ रखने के लिए क्या कर रहे हैं? हमें कमैंट्स में बताइये.

    पढ़िए : जानिए किस प्रकार आप स्वयं को प्रदुषण से बचा सकते हैं

Email us at connect@shethepeople.tv