आइए जानते हैं कुछ ऐसी बातें जो उन महिलाओं के लिए महत्वूर्ण है जो सेना में जाना चाहती हैं:-

  • शारीरिक बल – सेना के लिए शारीरिक मजबूती आवश्यक होती है क्योंकि एक सैनिक लड़ाई करने के लिए हमेशा सक्षम होना चाहिए। महिला केडेट्स इस पहलू पर थोड़ी मुश्किल में आ जाती हैं क्योंकि भारतीय समाज में लड़कियों में शारीरिक कौशल से अधिक गृहस्थ कौशल पर ध्यान दिया जाता है।
  • मासिक धर्म जैसी दिक्कतों का सामना – सेना मासिक धर्म जैसी दिक्कतों के लिए महिला केडेट्स के साथ रियायत नहीं बरतता।
  • भावनाओं में जटिलता – महिलाओं का भारतीय संसार में, कर्म घर की देखभाल करना होता है। महिला सैनिक भी इससे अछूती नहीं और उन्हें कई रिश्तों के साथ समझौता कर के सेना को अपनी प्राथमिकता बनाना पड़ता है।
  • मुश्किल लाइफस्टाइल – सेना को ट्रेनिंग और मिशन के लिए ऐसी जगहों पर जाना पड़ सकता है जहां जीना बहुत कठिन है, चाहे वो महिला हो या पुरुष।
  • हेयरस्टाइल – महिला केडेट्स को खास ध्यान रखना पड़ता है कि बालों की वजह से उनके कार्य पर कोई असर ना पड़े, ऐसे में, अगर वो लंबे बाल रखना चाहे तो उन्हें हमेशा जूड़ा बना कर रहना पड़ता है।
  • शारीरिक ट्रेनिंग से कहीं अधिक – सेना की ट्रेनिंग बहुत कठोर होती है और शारीरिक बनावट के कारण औरतों के लिए तो और भी अधिक।
  • संवरने का वक़्त नहीं – कठिन दिनचर्या और थका देने वाला अभ्यास आपको जो थोड़ा भी वक़्त मिले उसमे सोने के अलावा और किसी चीज की इजाज़त नहीं देता।
  • युद्ध क्षेत्र में अभी तक सम्मिलन नहीं – सेना युद्ध क्षेत्र में महिला केडेट्स को सम्मिलित नहीं करती, हालांकि सेना युद्ध में भी उनकी भागीदारी की बात चल रही है।
Email us at connect@shethepeople.tv