अगर आप ने घर से काम करने का फैसला किया है तो आप जान ले कि इसके फायदें और नुकसान दोनों ही हैं . घर से काम करना हर किसी के लिये आसान नही होता है. इसलिये यह बेहतर है कि आप उन बातों को जान ले जो आपके लिये अच्छी होगी और उन बातों को भी जान ले जो आप के लिये नुकसानदायक भी साबित हो सकती है. आप इनसे जान ले कि घर से काम करना कैसा होगा.

घर से काम करने की अच्छी बातें

कोई यात्रा नही करनी– आप जब घर से काम करते है तो आप को कही आना जाना नही पड़ता. इससे आपके आने जाने का समय और पैसे की बचत होती है. यात्रा नही करने से आप तनाव मुक्त भी रहते है. अगर आप दिल्ली या मुंबई जैसे शहर में है तो आफिस आने जाने में जिस तरह का दबाव महसूस किया जाता है उससे आप बच जातें है.

• ज्यादा फ्लेक्सिबिलिटी- घर से काम करने में आप के पास समय चुनने की आज़ादी होती है. आप उस समय काम कर सकते है जब आप उस काम में अपना सबसे बेहतर परिणाम दे पायें. आप पूरी तरह से लगन के साथ उस समय पर काम कर सकते है जो आप ने चुना है.

ध्यान भटकने से बच सकते है– घर पर काम करने के दौरान भी ऐसी चीज़े होती है जिससे आप का ध्यान भटक सकता है लेकिन वह ऐसी चीज़े होती है जिसे आप आसानी से दूर कर सकते है. लेकिन आफिस के अंदर आप के को वर्कर, कर्मचारी और दूसरी चीज़े होती है जो आप का ध्यान भटका सकती है.

• तनाव काफी कम होता है– जब आप घर से काम करते है तो आप तनाव को आसानी से काबू में कर सकते है. जिस समय भी आप दबाव महसूस करें उस वक़्त आप कुछ देर के लिये आराम कर सकते है या फिर आप ऐसी चीज़ कर सकते है जिससे आप सुकून महसूस करें.

पैसे बचा सकते हैं– जब आप घर पर काम कर रहे होते है तो आप पैसे भी बचाते है. घर से आफिस की यात्रा के दौरान ऐसा कई बार होता है कि आप कुछ चीज़ों पर बगैर सोचे समझे खर्च कर देते है. यह एक तरह से फिजूलखर्ची होती है. लेकिन जब आप घर से काम करते है तो इस तरह का खर्च बच जाता है.

काम और जिंदगी में संतुलन बना सकते हैं– जब आप घर से काम करते है तो आपनी निजी जिंदगी और काम में संतुलन बना सकते है. घर से बाहर जाने पर लंबे लंबे काम के समय की वजह से महिलायें अपने परिवार और काम के बीच संतुलन नही बना पाती है. लेकिन घर से काम करने में ऐसी दिक्क़त नही आती है.

लेकिन घर से काम करने के बहुत से नुकसान भी है. आइये हम जानें की घर से काम करने की दिक्क़ते क्या है.

अनुशासन की आवश्यकता होती है– जब आप अपने घर से काम करते है तो यह जरुरी है कि आप के अंदर अनुशासन हो. घर के माहौल में अपना ध्यान केंद्रित करके काम करना आसान नही होता है. इसलिये आप में अनुशासन जरुरी है तब ही आप काम कर पायेंगे.

अकेलापन महसूस करते है– घर पर काम अकेले ही करना पड़ता है. इसलिये आप अकेलापन महसूस कर सकते है जबकि ऑफिस में आप दूसरें सहयोगियों के साथ काम करते है. इसलिये काम करना आसान होता है.

आप रहने की जगह खो देते हैं- जब आप घर से काम करते है तो घर भी एक तरह से ऑफिस
बन जाता है. घर से काम करने की वजह से आप घर का इस्तेमाल भी कार्यक्षेत्र की तरह करने लगते है.

काम धीमा हो जाता है– घर पर आप अकेले काम करते है इसकी वजह से आप किसी भी किस्म की प्रतिस्पर्धा महसूस नही करते है. इसके चलते कई बार काम धीमा हो जाता है. वही ऑफिस में काम करने के दौरान आप अपने सहयोगियों को भी देखते है इसलिये आप काम में तेज़ी बनायें रखते है.

सीखने की संभावना कम हो जाती है-ऑफिस में काम करने के दौरान आप के लिये हमेशा नई चीज़े सीखने की संभावना बनी रहती है. लेकिन घर में इस तरह की संभावना न के बराबर होती है.

संबंध बनाना कठिन है– जब आप घर से काम करते है तो आपका सामना आपका सहयोगियों और सहकर्मियों से नही होता है. इस वजह से आप उनके साथ संबंध नही बना पाते है. अगर आप आफिस जाते है तो आपके संबंध बनते है जो आपके लिये फायदेमंद भी साबित होते है.

 

Email us at connect@shethepeople.tv