मई 2018 में दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट को फतह करने वाली सबसे उम्रदराज भारतीय महिला बनने के बाद, 54 वर्षीय संगीता सिंधी बहल, उत्तरी अमेरिका की सबसे ऊँची पर्वत चोटी माउंट डेनाली पर चढ़ाई के लिए तैयार हैं। इसके साथ, वह सातवे माउंट समिट को पूरा करने वाली कश्मीर की सबसे उम्रदराज़ और पहली भारतीय महिला बन जाएगी।

संगीता की पर्वतारोहण में उपलब्धियाँ

जम्मू में जन्मी और पली-बढ़ी, संगीता, संस्थापक निदेशक और इम्पैक्ट इमेज कंसल्टेंट्स की इमेज कंसलटेंट भी है। गुड़गांव में रहनेवाली , झारखंड की प्रेमलता अग्रवाल का 53 साल की उम्र में माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली भारत की सबसे उम्रदराज महिला बनने का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। प्रेमलता  ने 2011 में 48 साल की उम्र में दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर कब्जा कर लिया था।

दो साल बाद, प्रेमलता ने 50 साल की उम्र में मई 2013 में सात शिखर सम्मेलन पूरे किए। अगर संगीता ने माउंट डेनाली को हासिल करने में सफलता हासिल की, तो वह फिर से प्रेमलता द्वारा स्थापित रिकॉर्ड को तोड़ देगी।

स्थायी रूप से, सेवन समिट्स में दुनिया के सात कॉन्टिनेंट्स में हर कांटिनेंट के पर्वत शामिल हैं। इन सभी पर्वतो पर चढ़ना पर्वतारोहण चुनौती माना जाता है।

पर्वतारोही बनने की सोच

संगीता ने कभी नहीं सोचा था की वो पर्वतारोही बनेगी जब तक उन्होंने माउंट किलिमंजारो की चढ़ाई नहीं की थी । जम्मू और कश्मीर की संगीता में पर्वत चढ़ने का शौंक उनके पति के कारण 2011 में आया था ।

यह 2011 में था कि पर्वतारोहण के लिए इंस्ट्रक्टर उनके पास आए और वह माउंटेनियरिंग के लिए तैयार हो गई। उन्होंने 2011 में  किलिमंजारो  की चढ़ाई अपने पति के साथ की। दो साल बाद, उन्होंने माउंट एल्ब्रुस की चढ़ाई की जो की यूरोप की  माउंट पर चढ़ने वाली तीसरी भारतीय महिला पर्वतारोही बनी । 2014 में अंटार्कटिका में उन्होंने माउंट विंसन की चढ़ाई की। एक साल बाद, उन्होंने माउंट अकोंकागुआ की भी चढ़ाई की जो की  दक्षिण अमेरिका की सबसे ऊंची चोटी है ।

“मैं अपने देश को एक बार फिर से गर्व कराने के लिए जो कुछ भी कर सकती हूँ वो करने के लिए तैयार रहती हूं। मेरे साथ चढ़ाई करने वाले तीन भारतीय और भी हैं और हम निश्चित रूप से एक रोमांचक समय बिताने वाले हैं, “आत्मविश्वास से भरपूर पर्वतारोही।

कुल मिलाकर, नौ भारतीयों ने अब तक सात पर्वतो की चढ़ाई की हैं। इनमें मल्ली मस्तान बाबू (मरणोपरांत), प्रेमलता अग्रवाल, ताशी मलिक, नुंग्शी मलिक, कमांडर (सेवानिवृत्त) सत्यब्रत दाम, सत्यरूप सिद्धान्त, अंकुर बहल, ग्रुप कैप्टन आरसी त्रिपाठी और कर्नल रणवीर सिंह जम्वाल शामिल हैं।

संगीता ने हाल ही में शाकाहारी बनी है। उन्होंने कहा, ” इस चढ़ाई का मेरा कारण वेगनिस्म और जानवरों के प्रति हो रही सभी क्रूरता को रोकना है। मेरी इच्छा है कि मैं बेज़ुबानों को अपनी आवाज़ दूँ ”, उन्होंने कहा।

Email us at connect@shethepeople.tv