आज 2019  में भी आलम यह है की समाज ने और तो और हम लड़कियों के परिवार वालो ने भी हमारे लिए हर चीज़ में दायरे बना रखे है। ऐसी चलो, धीरे से हँसो, रात को देर तक बाहर मत रहो और पता नहीं अनेको ऐसी बाते जो सिर्फ लड़कियों और महिलाओं के लिए ही कही जाती है। समाज में जहां लड़के कुछ भी पहनकर  निकल सकते है, कही भी जा सकते है कितनी ही देर तक बाहर रह सकते है। वही सभी पाबंदियाँ लड़कियों और महिलाओं के लिए ही क्यों है। आइये जानते है ऐसी 5 बाते जो हमे लड़कियों से नहीं कहनी चाहिए  :

ज़्यादा मत हँसो

हम अक्सर अपनी बेटियों को ख़ास तोर पे माताएँ हर बार उन्हें बताती रहती है की तेज़ मत हँसो सब देख रहे है। अगर सब देख भी रहे है तो क्या हम जैसे है वैसे ही रहेंगे क्योंकि यह हमारा स्वभाव है। कभी भी अपनी बेटी को उसका स्वभाव बदलने के लिए न कहे।

देर रात तक बाहर मत रहो

कभी भी लड़कियों पर रोक- टोक मत लगाए बल्कि उसे आत्म-निर्भर बनाये। उसे अकेले आने जाने दे ताकि वह सशक्त बन सके।उसे रात में अकेले आने दे , माना की सुरक्षा कारणों से आपको अपनी बेटी की फ़िक्र होती है पर उसकी ताक़त बने नाकि उसकी कमज़ोरी।

छोटे कपड़े मत पहनो

हम सभी वो कपड़े पहनते है जो हमे कम्फर्टेबले लगते है तो लड़कियों को भी अधिकार है वो कपड़े पहनने का जिसमे वह आरामदायक महसूस करती है। आजकल लड़के भी शॉर्ट्स पहनते है उनसे तो कोई नहीं कहता की मत पहनो अच्छा नहीं लगता तो फिर लड़कियों से ही क्यों ।

तेज़ आवाज़ में मत बोलो

अक्सर लड़कियों से कहा जाता है की तेज़ आवाज़मेंट बोलो लोग सुनूंगी तो क्या सोचेंगे । ऐसा क्यों कैसे बात करनी है कैसे बोलना है यह एक लड़की की खुद की मर्ज़ी होनी चाहिए ना की किसी और की दखलंदाज़ी । तो कृपा करके लड़कियों को मत बताये की कैसे बोलना है ।

लड़को के साथ बाहर मत घूमो

आजकल के ज़माने में जहाँ हमे अपने आपको सफल बनाने के लिए हर तरह के माहौल में उठना- बैठना आना चाहिए वह अगर यह पाबंदी हो तो हम अपने आपको कैसे सफल बना पायेंगे। और कोई पाप नह है लड़को से बात करना या उनके साथ कहिजाना वो भी हमारी तरह एक और मनुष्य प्रजाति है बस ।

 

Email us at connect@shethepeople.tv