मीटू# मूवमेंट हर देश की तरह भारत में भी हुआ और यहाँ भी नए बरसो पुराने राज़ नयी कहानियों के साथ सामने आये हैं। यह जानना बाहत दिलचस्प रहा की हमारे देश में भी लोगो ने हिम्मत दिखाई और लोग अपने साथ हुई उस नाइंसाफी की कहानी को लेकर दुनिया के सामने  आये हैं।भरत में इस मूवमेंट में सबसे ज़्यादा एहम भूमिका तनुश्री दत्ता ने निभाई अपनी कहानी से पूरी दुनिया में हलचल मचाकर।

अभिनेत्री और पूर्व मिस इंडिया यूनिवर्स, तनुश्री दत्ता को बोस्टन, मैसाचुसेट्स में हार्वर्ड बिजनेस स्कूल में मीटू पर बोलने के लिए आमंत्रित किया गया है।

यह अक्टूबर 2018 की बात है, जब तनुश्री ने नाना पाटेकर के साथ अपने कथित अनुभव के बारे में बात की और 2008 में हॉर्न ओके प्लीज की शूटिंग के दौरान उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया।

जिसके बाद दोनों ही पक्षों ने अपनी बात दुनिया के सामने राखी पर तनुश्री का पलड़ा ज़्यादा भारी रहा और लोगो ने उनका समर्थन किया।

इससे भारत में #मीटू आंदोलन की शुरुआत हुई क्योंकि कई महिलाओं को इससे प्रेरणा मिली और वह अपने अनुभवों के साथ सामने आईं।

हार्वर्ड इंडिया कॉन्फ्रेंस के 16 वें भाग में बोलने के लिए उन्हें आमंत्रित किया गया, जिसका विषय इंडिया इन इंप्लेक्शन पॉइंट है, जो विभिन्न पैनल चर्चाओं के दौरान विभिन्न विषयों को कवर करेगा।

उन्होंने अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए इंस्टाग्राम पर अपने आमंत्रण की घोषणा की ।

मेरे लिए यह बहुत गर्व की बात है की मुझे इस तरह के एक प्रतिष्ठित मंच पर आमंत्रित किया गया है और मुझे उम्मीद है कि मीटू# ऐसे कई लोगों के लिए प्रेरणा है जो जीवन में कठिन लड़ाई लड़ रहे हैं” तनुश्री ने कहा

तनुश्री के इस कदम ने कितनी ही महिलाओं को अपने साथ हुई नाइंसाफी की खानी को सामने लाने की प्रेरणा दी है। और हम आशा करते हैं की अपनी कहानी से वह अन्य लोगों को जाकरूक और प्रेरित कर पाएंगी

 

Email us at connect@shethepeople.tv