लंबे और भावनात्मक नोट में, ताहिरा कश्यप का कहना है कि उनकी सबसे बड़ी जीत यह थी कि वह अगली पीढ़ी की
“मानसिकता और धारणा” को बदलने में कामयाब रहीं। ताहिरा कश्यप बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना की पत्नी है। वह ब्रैस्ट कैंसर से झूझ रही थी।

आयुष्मान खुराना की पत्नी और फिल्म निर्माता ताहिरा कश्यप, जिन्हें ब्रैस्ट कैंसर का पता चला था और कीमोथेरेपी दी गई थी, उन्होंने बीमारी के साथ अपनी जर्नी के बारे में तस्वीरें साझा की हैं, साथ ही उन्होंने इस बात पर एक भावनात्मक टिप्पणी दी  है कि वह बदलावों के साथ कैसे आगे आईं। उनकी इस बिमारी का 2018 में पता चला था।

पोस्ट में, ताहिरा ने लिखा कि पूरी प्रक्रिया के दौरान उसकी सबसे बड़ी जीत यह थी कि वह बीमारी के बारे में अपने सात साल के बेटे की “मानसिकता और धारणा” को बदलने में कामयाब रही। ताहिरा ने तब से तस्वीरें शेयर की कीं जब उन्होंने अपने बालों को खोना शुरू किया, जिसमें से एक में वह पूरी तरह से गंजी थी और एक जिसमें उनके बाल बरकरार थे। उन्होंने हाल ही में एक तस्वीर भी शेयर
की, जिसमें उनके छोटे बाल है।

पिछले कुछ महीनों में उनके शरीर में काफी बदलाव आये है।  मैंने इससे जीवन के बहुत सारे नए पाठ सीखे है । जीवन में अचानक हो रहे बदलावों को समझा है ।

उन्होंने अपनी  मानसिक और शारीरिक  जर्नी के बारे में लिखा है, जिससे वह गुजरी है। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि मुझ में मानसिक और शारीरिक रूप से भी एक जबरदस्त बदलाव आया है। लंबे बालों के साथ मेरे जुनून से, बालो के साथ सुंदरता को जोड़ना, और अपने बालों के पीछे अधिकांश समय गवाना । उसके लिए एक्सटेंशन और टोपी पहनना हो या चाहे बिना बालो के गांजा रहना हो । मैं हर फेज का आनंद ले रही हूं, क्योंकि किसी भी तरह बालों के साथ मैंने अपनी असुरक्षा, सुंदरता और मेरे बाकी बातो के बारे में ध्यान देना छोड़ दिया है। मुझे नहीं पता कि मैं लंबे बाल रखूंगी या नहीं, या तो मैं अपने चेहरे को छिपाने नहीं जा रही हूं। मैं सुंदरता का दावा नहीं करती , लेकिन मैंने अपनी मानसिकता बदल दी है और मेरी सबसे बड़ी जीत मेरे 7 साल के बेटे और अगली पीढ़ी की मानसिकता और धारणा को बदलना है।

पिछले साल 22 सितंबर को ताहिरा ने खुलासा किया कि उन्हें ब्रैस्ट कैंसर है। वह नवंबर में एक मास्टेक्टॉमी से गुजरने के बाद काम पर लौट आई। आईएएनएस के साथ पहले के एक साक्षात्कार में, आयुष्मान ने कहा: “मुझे खुशी है कि मेरे पास ताहिरा जैसी साथी है जो बहुत बहादुर है, मजबूत है, जो एक प्रेरणा है। मैंने जीवन को एक अलग नज़रिये से देखना शुरू किया है। मैं उसे अपना समय दे रहा था, बिल्कुल। सुबह मैं अपनी फिल्मों का प्रचार कर रहा था, रातों में मैं अस्पताल में उसके साथ था … यह आसान नहीं है। “

Email us at connect@shethepeople.tv