आज के इस मॉडर्न समय में जहाँ दुनिया चाँद पर पहुँच गई, विज्ञान इतना आगे बढ़ गया और तो और ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है जहाँ लड़कियों ने अपनी छाप न छोड़ी हो। हर क्षेत्र में लड़कियों ने अपना लोहा मनवाया है परन्तु फिर भी लड़कियों की शादी का विचार समाज में किसी के भी दिमाग से नहीं जाता। कोई भी लड़की जैसे ही 18 साल की हुई नहीं रिश्तेदारों का पूरा तुंबा आ जाता है उसके लिए रिश्ते लेकर। कोई बड़े घर का हवाला देता है तो कोई  अच्छे लड़के का । किसी को यह मतलब नहीं की लड़की और उसके परिवार वाले अभी शादी के लिए तैयार ही या नहीं । अगर वो तैयार न हो तो ज़बरदस्ती उन्हें उलटे सीधे ताने देकर ज़बरदस्ती सोचने पे मजबूर किया जाता है की अब शादी कर देनी चाहिए ।

एक लड़के को शादी के काबिल कब समझा जाता है जब वो अच्छा कमाता है, उसके पास खुद का घर हो और अब वो नई ज़िम्मेदारिया सँभालने के लिए तैयार हो पर लड़कियों शादी के लायक बस उम्र का 18  वा पड़ाव पार करते ही हो जाती है ।  कोई उनसे उनके सपनो के बारे में नहीं पूछता । किसी को कोई मतलब ही नहीं है की वो क्या चाहती है ।

ऐसे – ऐसे रिश्तेदार जो लड़की का नाम भी शायद जानते हो पर उसके लिए रिश्ता भेजना नहीं भूलते

कृपा करके बंद करो लड़कियों को शादी की बेड़ियों में बांधना उन्हें भी अपने पंख चाहिए उन्हें भी उनके हिस्से का आसमान चाहिए ।लडकियां कोई जानवर नहीं है जिन्हे एक खूटे से छुड़वाकर दुसरे से बाँध दो, उन्हें भी जीने का अधिकार है उन्हें भी अधिकार है अपने सपने देखने का उन्हें पूरा करने का और शादी एक ऐसी बेड़ी है जो उनके सपनो को शुरू होने से पहले ही खत्म कर देता है।

कुछ ऐसी महत्वपूर्ण बाते जो समाज को एक लड़की से उसकी शादी के लिए नहीं कहनी चाहिए:

  1. कभी भी बिना जाने की वो अपनी ज़िन्दगी में क्या चाहती है अपनी सोच उस पर ना थोपे ।
  2. कभी भी बिना जाने की वो अपने करियर में किस मुकाम पर है उसके लिए शादी के रिश्ते न भेजे ।
  3. शादी करना या न करना उसका अपना फैसला है कृपा करके उस पर शादी के लिए दबाव न बनाये ।
  4. एक लड़की को उसके जीवन में उसके करियर बनाने दे ना की उसका ध्यान शादी जैसी बातो से भटकाए।
  5. उसे अपने सपने पूरे करने के लिए प्रेरित करे ना की उन्ही सपनो को तोड़ने के लिए कहे क्योंकि जब किसीका कोई सपना टूटता है तो वो उस पर जीवन भर की छाप छोड़ता है ।
  6. शादी के लिए कोई उम्र की सीमा तय न करें ये लड़की और उसके परिवार की मर्ज़ी है क्यूंकि शादी कोई आइडेंटिटी कार्ड नहीं है जो एक निश्चित उम्र में हमारे पास होना चाहिए।

यह दुनिया के उन तमाम लोगो के लिए एक सन्देश है की आप चाहे लाख कोशिश करलो हमे शादी की बेड़ियों में बाँधने की पर हम अपने सपनो को पाने की अपनी राह बना ही लेंगे ।

Email us at connect@shethepeople.tv