सीबीएसई  ने सोमवार को वर्ष 2019 के कक्षा 10 बोर्ड के परिणाम की घोषणा की और तेरह टॉपर्स में से छह लड़कियों ने परीक्षा में बाजी मारी। समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया है कि केरल की भावना एन शिवदास और जयपुर की तरु जैन सीबीएसई कक्षा -10 वीं की परीक्षा में आल इंडिया टॉपर्स में से एक हैं और उन्होंने 18 लाख छात्रों को पछाड़ दिया है, जिन्होंने 499 अंकों के साथ परीक्षा में पहला स्थान प्राप्त किया।

लड़कियों ने 90.14 प्रतिशत लड़कों की तुलना में 92.45 प्रतिशत पास प्रतिशत के साथ एक बार फिर 2.31 प्रतिशत से लड़कों को पीछे छोड़ दिया। इस बीच, ट्रांसजेंडर छात्रों ने 94.74 प्रतिशत उत्तीर्ण प्रतिशत के साथ बेहतर प्रदर्शन किया। यह 2018 में उनके 83.33 प्रतिशत के सबसे अच्छे प्रतिशत से भी ज़्यादा  है।

नंबर 1 की संयुक्त रैंक के साथ 13 टॉपर्स में, जयपुर के सेंट एंजेला सोफिया सीनियर सेकेंडरी स्कूल की छात्रा तरू जैन ने 499/500 के स्कोर के साथ लिस्ट में जगह बनाई। पहला स्थान पाने पर उसने अपनी सफलता के राज़ का खुलासा किया।

“मुझे बहुत अच्छा लग रहा है, मैं 4-5 घंटे पढ़ाई करती थी,” तरू ने एएनआई को बताया। उसने अपने माता-पिता, शिक्षकों और प्रिंसिपल को इस बात का श्रेय दिया कि उन्हें अपनी परीक्षा को पास करने के लिए सभी का साथ मिला।

मैं दिल्ली विश्वविद्यालय से इकोनॉमिक्स (ऑनर्स) की पढ़ाई करना चाहती हूं,” सीबीएसई कक्षा 10 वीं के टॉपर ने कहा।

सीबीएसई कक्षा 10 के मुख्य परिणाम:

 

  1. इस साल बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले 18 लाख छात्रों में से, केरल की भावना एन सिवादास और जयपुर के तरू जैन ऑल इंडिया टॉपर बनी ।
  2. इस साल कुल पास प्रतिशत1% है।
  3. सीबीएसई कक्षा 10 की परीक्षा में 13 छात्रों ने 500 में से 499 अंक प्राप्त किए। इनमें से सात लड़के और छह लड़कियां हैं।
  4. त्रिवेंद्रम (99.85%), चेन्नई (99%), अजमेर (95.89%) टॉप तीन क्षेत्र हैं।
  5. ट्रांसजेंडर छात्रों ने लड़कों और लड़कियों दोनों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया है।
  6. कुल 97 छात्रों ने पहले तीन स्थान प्राप्त किये ।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्विटर पर अपनी खुशी का इजहार करते हुए अपनी बेटी के परिणाम के बारे में बात की जो कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा में शामिल हुई थी।

Email us at connect@shethepeople.tv