प्रेगनेंसी किसी भी औरत की जिंदगी का सबसे बड़े अवसरों में से एक होता है। ऐसे में हर प्रेग्नेंट औरत का मुख्य दर्ज पहली बार मां बन रही है उनका प्रेगनेंसी मिथ्स के बारे में जानना बहुत जरूरी है। तो आइए जानते हैं प्रेगनेंसी से जुड़े 5 मिथ्स

5 प्रेगनेंसी मिथ्स

1. आपके पेट का साइज बच्चे का जेंडर बता सकता है

लोगों को बच्चे का जेंडर है जानने का उत्साह और उसकी उत्सुकता जितनी अच्छी होती है, उतनी ही खराब भी होती है। लोग अक्सर यह मानते हैं की प्रेग्नेंट औरत के पेट के आकार को देखकर बच्चे का जेंडर बताया जा सकता है।

जबकि बच्चे का जेंडर पेट के आकार या फिर अन्य किसी बात पर निर्भर नहीं होती।

2. प्रेगनेंसी के दौरान तीखा खाने से बच्चा अंधा हो सकता है

लोगों का मानना होता है की प्रेगनेंसी के दौरान मसालेदार खाना खाने से बच्चे को नुकसान तो हो सकता है और वह अंधा पैदा हो सकता है।

लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता। हालांकि प्रेगनेंसी के दौरान तीखा खाने से आपको जलन का सामना करना पड़ सकता है।

3. हार्टबर्न महसूस करने से बच्चा बालों के साथ पैदा होगा

अक्सर लोगों का मानना होता है अगर आप प्रेगनेंसी के दौरान हार्टबर्न महसूस कर रहे हैं तो आपके बच्चे के सिर पर बाल हो सकते हैं। हालांकि यह कुछ हद तक सच भी है।

4. प्रेगनेंसी के दौरान स्ट्रेस बच्चे के लिए बिल्कुल अच्छा नहीं होता

कई लोगों का मानना होता है कि प्रेगनेंसी के दौरान अगर मां stress लेती है तो बच्चे के ऊपर बुरा असर पड़ सकता है लेकिन कई रिसर्च बताती हैं कि प्रेगनेंसी के दौरान थोड़ा बहुत stress लेने से बच्चे के नर्वस सिस्टम और डेवलपमेंट में अच्छा बदलाव आता है।

5. प्रेग्नेंट औरतों को एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए

प्रेगनेंसी के दौरान एक्सरसाइज ना करने से बच्चे के दिमाग और उसके वज़न पर फर्क पड़ता है। इसलिए प्रेगनेंसी के दौरान एक्सरसाइज करना बिल्कुल सही और जरूरी माना जाता है।

तो यह थे 5 प्रेगनेंसी मिथ्स ।

Email us at connect@shethepeople.tv