महिलाओं में PCOS हार्मोनल डिसबैलेंस के कारण होता है। यह महिलाओं की ओवरीज की फंक्शनिंग को प्रभावित करता है। PCOS के शरीर से जुड़ी कई बीमारियां को जन्म देता हैं, जैसे कि अनियमित पीरियड्, मुंहासे, गंजापन, चेहरे और अन्य जगह पर बालों का उगना, कंसीव करने में दिक्कत होना और आदि। वही अगर इसका सही से इलाज ना किया जाए तो यह कैंसर का रूप भी ले सकता है। लेकिन घर के इन नुस्खों से PCOS का आसानी से इलाज कर इससे जुड़ी समस्या को दूर किया जा सकता हैं।

1. मेथी के बीज

मेथी के बीच इंसुलिन को बढ़ने से रोकते हैं साथ ही ग्लूकोस के लेवल को बढ़ाता है। मेथी के बीजों को रात भर भीगा दें और खाली पेट एक चम्मच भीगे हुए बीजों को शहद के साथ खा लें। इसका सेवन एक दिन में तीन बार करें।

2. तुलसी

ओवाल्यूशन प्रक्रिया ना होने के कारण एंड्रोजन यूटिलाइज नहीं होता जिसके कारण चेहरे पर बाल उगते हैं। लेकिन तुलसी में एंटीएंड्रोजेनिक गुण पाए जाते है। या एंड्रोजन और इंसुलिन के स्तर को काबू में रखता है। रोजाना सुबह 10 पत्ते खाली पेट खाएं या आप इसे चाय में भी डाल कर पी सकते हैं।

3. शहद

PCOS असर सीधे हमारे वजन पर पड़ता है, जिसके कारण हमारा वजन बढ़ जाता है। लेकिन शहद वजन कम करने के लिए फायदेमंद उपाय है। गुनगुना पानी में शहद और नींबू मिलाकर पीने से वजन काबू में रहेगा।

4. आंवला

आंवला ब्लड शुगर के स्तर को काबू में करता है एवं महिलाओं में फर्टिलिटी को इंप्रूव करता है। साथ ही वजन कम करने में भी काफी मदद करता है। आमला का रस निकालकर उसमें गर्म पानी डालकर रोज पीने से PCOS से जुड़ी बीमारियों से राहत मिलती हैं। इससे कच्चा या रायता बनाकर भी खाया जा सकता है।

5. दालचीनी का मिश्रण

दालचीनी इंसुलिन के स्तर को बढ़ने से रोकता है और वजन को काबू में करता है। एक चम्मच दालचीनी के पाउडर को गर्म पानी में मिलाकर दो-तीन महीने तक पीने से काफी हद तक इंसुलिन काबू में रहेगा।

Disclaimer- यह सार्वजनिक रूप से एकत्रित जानकारी है। यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की आवश्यकता है तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें।

Email us at connect@shethepeople.tv