Taunts To Women : महिलाओं को कही जानें वाली ये बातें सही कैसे

Taunts To Women : महिलाओं को  कही जानें वाली ये बातें सही कैसे Taunts To Women : महिलाओं को  कही जानें वाली ये बातें सही कैसे

Sanjana

30 May 2022

हमारा समाज पुरुष प्रधान समाज है। इसमें महिलाओं को हमेशा एक संपत्ति की तरह समझा जाता है जिस पर शादी से पहले पिता का और शादी के बाद पति का हक होता है। लड़कियों की शिक्षा पर पैसा खर्च नहीं करते क्योंकि वे उसे पराया धन समझते हैं।  वे लड़की को एक बोझ समझते हैं जिसे शादी करके अपने सर से उतार कर दूसरे पर थोप देना चाहते हैं।

महिलाओं को पुरुषों से कम आंकना तो जैसे समाज की रीत ही बन गई। जमाने के इतने आगे बढ़ने के बावजूद भी हमें आज भी यह बातें सुनने को मिलती है। ये बातें सिर्फ महिलाओ को ही कही जाती है। और दुख तो तब होता है जब ये बातें एक औरत ही दूसरी औरत से कहती है। लेकिन ये बातें सही कैसे हो सकती है? इनके पक्ष में कोई कैसे तर्क कर सकता है?

लडकियों को सुनाई जानें वाली स्टेटमेंट्स -

1. छोटी हो लेकिन भाई से पहले शादी कर लो

हिंदुस्तानी घरों में तो शादी का सिलसिला बड़े भाई बहन से शुरू होता है। बड़े के बाद ही छोटे की शादी होती है। लेकिन जैसे लड़कियों के मामले में तो पूरी दुनिया ही खिलाफ हो जाती है। लड़की अगर छोटी भी हो तो कहा जाता है कि बड़े भाई से पहले शादी कर लो। क्योंकि उन्हें तो एक बोझ समझा जाता है जो जितनी जल्दी हो सके उतना अच्छा है। 

लेकिन यह कहना गलत है कि लड़की एक बोझ होती है। लड़कियां भी खुद को और अपने परिवार को संभालना जानती हैं। वे कामयाब बन सकती है और बन रही है। लेकिन सब के बदलने के साथ शायद यह समाज पीछे ही छूट रहा है।

2. बिज़नेस के लिए कोई मेल पार्टनर देख लो

घड़ी की हर एक टिक टिक के बाद लड़कियों की काबिलियत पर शक किया जाता है। लोगों को यह विश्वास ही नहीं होता कि लड़कियां अकेले भी सब कुछ संभाल सकती हैं। जब 20 लोगों का एक परिवार एक लड़की अकेले संभाल सकती हैं तो बिजनेस उसके लिए कोई बड़ी बात नहीं। फिर भी लोग फीमेल बिजनेसमैन को हिदायत देते हैं कि वह एक मेल पार्टनर देख ले। 

3. फिर से शादी?

जब कोई लड़की दोबारा शादी करती है तो उसे अक्सर यह सुनने को मिलता है जरा एडजस्ट कर लो। पति और सास के नखरों को बर्दाश्त कर लेना। इस बात को जस्टिफाई करने के लिए लोग तर्क देते हैं कि डाइवोर्स के बाद लड़कियों कि दोबारा शादी नहीं होती। और अगर हो जाए तो उससे बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। क्योंकि समाज ऐसी औरतों को कुबूल नहीं करता। 

लेकिन सिर्फ लड़कियों के मामले में ही ऐसा क्यों? लड़के भी तो एक से ज्यादा शादी करते हैं। लेकिन उनका एक से ज्यादा शादी करना तो तारीफ के काबिल माना जाता है। 

4. तुम म्यूज़िक क्यों सीख रही हो?

लड़कियों को घर के काम के अलावा कुछ सिखाया नहीं जाता। पुरुष प्रधान समाज के लोगो के लिए लड़कियों का सिर्फ एक ही काम है। वह है घर गृहस्ती संभालना और कपड़े धोना, बर्तन धोना, झाड़ू लगाना, आदि जैसे काम। क्योंकि म्यूजिक, डांस और दूसरे काम तो लड़के करते हैं।

लोगों की है गलत धारणा लड़कियों को आगे नहीं बढ़ने देती। और जब कोई लड़की कुछ नया सीखने की कोशिश करती हैं तो उससे सवाल कर दिया जाता है कि तुम यह क्यों कर रही हो घर का काम क्यों नहीं सीखती?

अनुशंसित लेख