हार्मोनल में परिवर्तन या ब्रेस्ट फीडिंग के कारण कई महिलाओं के ब्रेस्ट साइज ज्यादा हो जाते हैं। जिससे उन्हें रोजमर्रा जिंदगी में कई दिक्कतें झेलनी पड़ती हैं। कई महिलाएं इन समस्याओं को गंभीरता से नहीं लेती है या व्यस्त रहने के कारण नजरअंदाज कर देती हैं। लेकिन इसे गंभीरता से लेना जरूरी है क्योंकि इससे होने वाले आम समस्याएं बाद में और गंभीर रूप ले सकती हैं। जानिए ज्यादा ब्रेस्ट साइज से होने वाली 5 दिक्कत।

1. पीठ में दर्द

स्तन का आकार ज्यादा होने से हमेशा महिलाओं को पीठ में दर्द रहता हैं। यह सिर्फ दर्द का कारण नहीं बल्कि इससे पीठ की मांसपेशियां भी कमजोर हो जाती है। साथ ही इसके कारण गर्दन में भी दर्द होता है। स्तन के आकार को कम करने के लिए कॉफी का इस्तेमाल कर सकती है। कॉफी पीने से स्थान का आकार कम होता है।

2. कोई भी काम करने में दिक्कत होना

दरअसल स्तन के आकार ज्यादा होने से को भी काम करने में सांस फूलने लगता हैं। अगर आपके भी स्तन आकार ज्यादा है तो इस बात को अपने भी ध्यान दिया होगा। इसके अलावा ज्यादा काम करने से ब्रेस्ट में दर्द भी होने लगता है। लेकिन आप अगर सही से व्यायाम करें तो आप इसे आसानी से कम कर सकते हैं।

3. इंफेक्शन या रैशेज होना

ज्यादा साइज के ब्रेस्ट होने से वह त्वचा पर रब(Rub) करती है। जिसके कारण इंफेक्शन या रैशज हो जाते है। इसके अलावा स्तन के भारी होने के कारण ब्रा स्ट्रैप से दाग पड़ जाते और कंधे पर रैशज भी हो जाते‌ हैं।

4. ब्रेस्ट में दर्द होना

ब्रेस्ट में टिशू ज्यादा हो जाने के कारण ब्रेस्ट का आकार बढ़ जाता है। इस कारण कई बार अचानक से ही ब्रेस्ट में दर्द होने लगता है। इसीलिए इससे कम करना जरूरी है। वही यह बाद में जाकर ब्रेस्ट कैंसर के कारण बन सकता है।

5. अपने साइज का ब्रा ढूंढने में दिक्कत होना

ब्रेस्ट की ज्यादा साइज के कारण सही आकार का ब्रा ढूंढना किसी चुनौती से कम नहीं है। यहां तक कि कपड़े भी जल्दी फिट नहीं हो पाते है।

Email us at connect@shethepeople.tv