हमारे समाज में थेरेपी को लेकर आज भी काफी मिसकनसेप्शन हैंं। लोगों का आज भी यह मानना है कि जो मन से कमजोर होते हैं या जिन्हें कुछ दिमागी प्रॉब्लम होती है वही थेरेपी लेते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। आजकल लोगों के मन में इतना स्ट्रेस इतनी टेंशन रहती है कि कई बार अपनी प्रॉब्लम किसी से शेयर करने से उनसे बात करने से काफी फर्क पड़ सकता है। आइए जानते हैं ऐसे पाँच कारणों के बारे में जिनकी वजह से आपको थैरेपिस्ट से मिलना चाहिए

image

1. खुशी देने वाली चीजों से पीछे हटना: अगर अब आपको कुछ चीज़ करने के लिए मोटिवेशन नहीं मिल रही, तो शायद आपको एक थेरेपिस्ट से मिलना चाहिए।

2. बड़े बदलाव से गुज़रना: चाहे आप किसी नई जगह पर जा रहे हों, कोई नई फैमिली के बीच या कोई नए कैरियर में ही क्यों ना मूव कर रहे हों, बदलाव का समय हमेशा चैलेंजिंग होता है। इससे डील कर पाना आसान नहीं होता व ऐसे में एक थैरेपिस्ट की हेल्प लेने में कोई बुराई नहीं है। इससे आपको अच्छा ही महसूस होगा।

3. ज्यादा मूड स्विंग्स होना: अगर आपका मूड काफी जल्दी चेंज हो जाता है या आप कुछ वक्त से देख रहे हैं कि आपको बहुत ज्यादा मूड स्विंग्स हो रहे हैं, खुश होते होते एकदम से दुखी हो जाते हैं, तो यह सब निशानियां है कि आपको किसी थैरेपिस्ट से मिलने की जरूरत है। उनसे बात करके, उनकी सलाह लेकर, आपको ज़रूर बेहतर महसूस होगा।

4. अकेला महसूस करना: कई बार जो लोग किसी प्रॉब्लम से गुज़र रहे होते हैं, तो सबके साथ होते हुए भी उन्हें लगता है कि वह अकेले हैं, कोई उनका साथ नहीं दे सकता है या नहीं देना चाहता। ऐसे में एक थेरेपिस्ट से मिलना काफी फायदेमंद हो सकता है। थेरेपी शुरू करते ही आपको ऐसा महसूस होने लगता है कि कोई है जो आपकी बात सुन रहा है, कोई है जो आपके साथ है।

5. गलत चीज़ का सहारा लेना: कई लोग अपनी जिंदगी में प्रॉब्लम से पीछा छुड़ाने के लिए शराब, ड्रग्स आदि का सहारा लेना शुरू कर देते हैं। बेहतर है कि आप थेरेपिस्ट से मिलें ताकि आपकी प्रॉब्लम भी सुलझ जाए और आप किसी गलत चीज का शिकार भी ना बने।

Email us at connect@shethepeople.tv