एचसीएल टेक्नोलॉजीज ने आज कहा कि शिव नादर की बेटी रोशनी नादर मल्होत्रा ​​एचसीएल टेक के चेयरमैन के रूप में उनका पद संभालेंगी। शिव नादर पद से हट गए हैं। हालांकि, चीफ स्ट्रेटेजी अफसर के रूप में पदनाम के साथ, नादर एचसीएल टेक में मैनेजिंग डायरेक्टर बने रहेंगे।

image

रोशनी नादर मल्होत्रा ​​वर्तमान में एचसीएल कॉर्पोरेशन की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर, सीईओ और एचसीएल टेक्नोलॉजीज बोर्ड की वाईस – चेयरपर्सन हैं। वह शिव नाडार फाउंडेशन की ट्रस्टी भी हैं। कारपोरेशन में, रोशनी नादर मल्होत्रा ​​संगठन को स्ट्रेटेजिक गाइडलाइन्स प्रदान करने के लिए जिम्मेदार हैं।

रौशनी नादर मल्होत्रा भारत की सबसे अमीर महिला हैं

और पढ़िए: भारतीय महिलाओं के लिए तीन आसान इन्वेस्टमेंट टिप्स

2013 में, रोशनी नादर मल्होत्रा ​​को एचसीएल टेक के बोर्ड में एडिशनल डायरेक्टर के रूप में नियुक्त किया गया था। एचसीएल टेक्नोलॉजीज और एचसीएल इंफोसिस्टम्स की होल्डिंग कंपनी एचसीएल कॉर्प के बोर्ड में उसकी नियुक्ति के चार साल बाद यह हुआ था। HCL Tech भारत का तीसरा सबसे बड़ा सॉफ्टवेयर एक्सप्लोरर है।

आइये जानते हैं भारत की सबसे अमीर महिला के बारे में कुछ बातें:

  • रोशनी नादर-मल्होत्रा ​​75 वर्षीय शिव नादर की बेटी हैं जिन्होंने एचसीएल की स्थापना अजय चौधरी, अर्जुन मल्होत्रा ​​और पांच अन्य लोगों के साथ की थी। उनकी नेट वर्थ 36,800 करोड़ रुपए है।
  • रोशनी दिल्ली में पली बढ़ी। उन्होंने केलॉग स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, यूएसए से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री प्राप्त की है।
  • वह वर्ल्ड इकोनॉमिक फ़ोरम के फ़ोरम ऑफ़ यंग ग्लोबल लीडर्स इनिशिएटिव की पूर्व छात्रा भी हैं। यह दुनिया के सबसे प्रभावशाली, अगली पीढ़ी के लीडर्स की एक कम्युनिटी है।
  • मल्होत्रा ​​ पहिलांथ्रोपिक गतिविधियों में सक्रिय रूप से शामिल रही हैं। उन्होंने शिव नादर फाउंडेशन में ट्रस्टी के रूप में और विद्याज्ञान लीडरशिप अकादमी के चेयरपर्सन के रूप में काम किया है। अकादमी शिक्षा के माध्यम से अंडरप्रिविलीज्ड बच्चों को एम्पॉवर करती है।
  • रोशनी ने 2018 में द हैबिटैट्स ट्रस्ट की स्थापना की। वो प्रकृति के संरक्षण को लेकर बहुत पैशनेट हैं। फाउंडेशन का लक्ष्य भारत के नेचुरल हैबिटैट और इसकी स्वदेशी स्पीशीज का संरक्षण करना है।
  • उन्हें फोर्ब्स में 2017, 2018 और 2019 में विश्व की 100 सबसे शक्तिशाली महिला-सूची में भी फीचर किया गया गया था ।
  • रोशनी को 2017 में बाबसन कॉलेज से लुईस इंस्टीट्यूट कम्युनिटी चेंजमेकर अवार्ड भी मिला।

और पढ़िए : किरण मजूमदार शॉ को मिला आईएमसी लेडीज़ विंग Woman Of The Year का अवार्ड

Email us at connect@shethepeople.tv