महबूबा मुफ्ती: जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को जम्मू-कश्मीर की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) (People’s Democratic Party (PDP)) के प्रेसिडेंट के रूप में फिर से चुने जाने के लिए सब की सहमति से काफी वोट मिले हैं। महबूबा मुफ्ती प्रेसिडेंट 

image

मुफ्ती अब तीन साल के लिए पार्टी के प्रेसिडेंट के रूप में काम करेंगी। उनके सर्वसम्मति से चुनाव की खबर को पीडीपी के एक स्पोकपर्सन ने कन्फर्म किया। पार्टी के सीनियर लीडर गुलाम नबी लोन हंजुरा और खुर्शीद आलम ने प्रेसिडेंट के रोल के लिए मुफ्ती का नाम प्रपोज़ किया था। चुनाव बोर्ड की अगुवाई पीडीपी के एक अन्य नेता अब्दुल रहमान वीरी कर रहे थे। जबकि सुरिंदर चौधरी रिटर्निंग ऑफिसर थे।

महबूबा मुफ्ती प्रेसिडेंट 

जानिए महबूबा मुफ्ती (Mehbooba mufti president ) से जुड़ी और बातें: महबूबा मुफ्ती प्रेसिडेंट 

महबूबा मुफ्ती ने अपने पार्टी के सदस्यों को उनके चुनाव के लिए धन्यवाद दिया और कहा, “मैं अपने पार्टी के लोगों को धन्यवाद देना चाहुंगी कि उन्होनें मुझ पर एक बार फिर पीडीपी अध्यक्ष के रूप में विश्वास किया। मुझे पता है कि आगे का रास्ता चुनौतीपूर्ण है लेकिन हमारे नेता मुफ्ती साहब के विजन को आगे बढ़ाने से मुझे कोई नही रोक सकता। ”

साल 2016 में अपने पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद की मृत्यु के बाद से ही महबूबा ने जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री के रूप में उनकी भूमिका निभाई। उनके पद ग्रहण करने के दो साल बाद, केंद्र सरकार ने राज्य में राष्ट्रपति शासन की घोषणा कर दी। जम्मू और कश्मीर को बाद में अक्टूबर 2019 में केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया। तब महबूबा मुफ्ती के साथ-साथ क्षेत्र के अन्य नेताओं को लगभग 14 महीने तक नजरबंद रखा गया था। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी का गठन 1998 में उनके पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद ने किया था। महबूबा मुफ्ती प्रेसिडेंट 

Email us at connect@shethepeople.tv