हाल ही में 10 जनवरी को दीपिका पादुकोण की फिल्म छपाक रिलीज़ हुई जो एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्गरवाल के जीवन पर आधारित है। इस फिल्म को मेघना गुलज़ार द्वारा डाइरेक्ट किया गया है or बेहद ही खूबसूरत कम्पोज़िशन or कभी न खत्म होनेवाले होंसले के साथ एसिड की बिक्री के खिलाफ लड़ाई लड़ी गई हैं । छपाक बस एक फिल्म नहीं है कहानी है उस लड़ाई की जिससे एसिड अटैक जैसे घिनोने अपराध में इस्तेमाल होनेवाले एसिड की बिक्री पर रोक लगाईं जा सकी।

image

आप और हम तो शायद जानते भी नहीं होंगे की किसी की शक्ल के साथ -साथ उसके सपनो और अरमानों को जलानेवाला ये एसिड आसानी से दुकानों पर मिला करता था पर अब एक लम्बी लड़ाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने इसकी बिक्री पर रोक लगाईं है । आज शी दपीपल टी वी पर हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे बहुत से महत्वपूर्ण बदलाव जो छपाक फिल्म के रिलीज़ होने के साथ-साथ पूरे देश में हुए हैं ।

राजस्थान और मध्य प्रदेश में छपाक टैक्स फ्री हुई

हाल ही में छपाक फिल्म के बनने के पीछे के नोबल कॉज़ को समझते हुए मध्य प्रदेश और राजस्थान सरकार ने इस फिल्म को पूरी तरह से टैक्स फ्री घोषित कर दिया। इस घोषणा के बाद से मध्य प्रदेश और राजस्थान में अब छपाक फिल्म को लोग और भी सस्ते दाम पर आसानी से बड़े परदे पर देख पाएंगे और इस नेक पहल को समझ पाएंगे ।

समाजवादी पार्टी ने की छपाक की स्पेशल स्क्रीनिंग ऑर्गनाइज़

समाजवादी पार्टी ने अपने कार्यकर्ताओं के लिए छपाक फिल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग ऑर्गनाइज़ की लखनऊ में ।लखनऊ में खासतौर पर एक सिनेमा हॉल बुक किया गया जिसमे समाजवादी पार्टी के सारे कार्यकर्ताओं को खासतौर पर छपाक फिल्म देखने के लिए बुलाया गया । समाजवादी पार्टी का यह कदम एसिड अटैक के खिलाफ जागरूकता फैलाने के लिए उठाया गया

उत्तराखंड सरकार ने एसिड अटैक विक्टिम्स के लिए की पेंशन घोषित

एसिड अटैक विक्टिम्स के लिए उत्तराखंड सरकार ने हाल ही में पेंशन घोषित की । छपाक फिल्म के द्वारा एसिड अटैक विक्टिम्स के बारे में फैलाई गयी जागरूकता के कारण उत्तराखंड सरकार ने एसिड अत्तैक विक्टिम्स की भलाई के लिए यह कदम उठाया ।

छपाक फिल्म की रिलीज़ के साथ एसिड अटैक सर्वाइवर्स के बारे में बहुत हद तक जागरूकता फैलाई गई है । इस फिल्म को बनाने का मकसद एसिड अटैक सर्वाइवर्स के दुःख और तकलीफ के बारे में जागरूकता फैलाना है ।

Email us at connect@shethepeople.tv