फ़ीचर्ड

सौम्या स्वामीनाथन ब्रिटेन के नेतृत्व वाली पान्डेमिक टीम के 20 एक्सपर्ट्स में से एक

Published by
Ayushi Jain

सौम्या स्वामीनाथन यूके-लेड पांडेमिक टीम का हिस्सा बनी: वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) की चीफ साइंटिस्ट डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ब्रिटेन की अगुवाई वाली पान्डेमिक प्रेपरेडनेस पार्टनरशिप (पीपीपी) के 20 एक्सपर्ट्स में से एक हैं, जो मंगलवार को इस प्रोग्राम के हिस्से के रूप में मिलेंगे भविष्य के रोगों से जीवन को बचाने के लिए वैश्विक प्रयास।

रिपोर्ट्स के अनुसार स्वामीनाथन ने पहले COVID-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में एक लीडिंग फिगर बनकर सुर्खियां बटोरी थीं। यह इंडियन क्लीनिकल साइंटिस्ट वर्ष 2019 में वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन की चीफ साइंटिस्ट बनी। मेडिकल साइंस के क्षेत्र में उनके पास काफी एक्सपीरियंस  है और उनके पिता एम। एस। स्वामीनाथन ने इंडियन एग्रीकल्चर को रेवोल्यूशनलाइज़ करने के खिलाफ उनकी दौड़ में भी मदद की है।

ब्रिटेन के नेतृत्व वाली पान्डेमिक प्रेपरेडनेस पार्टनरशिप (पीपीपी) के बारे में अधिक जानकारी

पार्टनरशिप की अध्यक्षता यूके के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार सर पैट्रिक वालेंस ने की है। इसमें जून के यूके-होस्टेड जी 7 शिखर सम्मेलन में कॉर्निवाल में विश्व नेताओं को प्रेषित किया गया है। यह यूके जी 7 प्रेसीडेंसी को सलाह देगा कि 300 से 100 दिनों तक नई बीमारियों के लिए हाई क्वालिटी  वाली वैक्सीन को डेवेलोप करने और मार्किट में लाने के लिए समय काटने के लक्ष्य को कैसे पूरा किया जाए। वैश्विक वैक्सीन आपूर्ति पर कोअलिशन फॉर एपिडेमिक प्रेपरेडनेस इन्नोवेशंस (CEPI) के लिए गठबंधन के काम का समर्थन करने के लिए 16 मिलियन पाउंड की एडिशनल फंडिंग का सपोर्ट किया जाएगा।

पार्टनरशिप इंडस्ट्री, इंटरनेशनल ऑर्गनाइज़ेशन और लीडिंग एक्सपर्ट्स को एक साथ लाती है। इसका उद्देश्य रिसर्च और डेवलपमेंट, विनिर्माण, क्लीनिकल ट्रायल्स और डेटा-शेयरिंग पर अधिक ग्लोबल कोऑपरेशन के माध्यम से एक तेज दर, थेरपीयूटिक्स और डायग्नोस्टिक्स पर वासिने डेवेलोप करना है।

यूके के हेल्थ सेक्रेटरी मैट हैनकॉक ने इस संबंध में कहा, “कोविद महामारी ने दुनिया को हिला दिया है, लेकिन भविष्य में इस तरह का कोई प्रभाव नहीं पड़े, यह सुनिश्चित करने के हमारे संकल्प में हमें एकजुट किया है।”

“जी 7 अध्यक्ष के रूप में, यूके हमारे सहयोगियों के साथ कोरोनोवायरस से बेहतर निर्माण करने और भविष्य की महामारियों के लिए वैश्विक तैयारियों को मजबूत करने के लिए दृढ़ संकल्पित है। यह नया एक्सपर्ट ग्रुप लोगों को हर जगह नई बीमारियों से बचाने और जान बचाने के लिए आने वाले वर्षों में हमारे प्रयासों को आगे बढ़ाएगा।

Recent Posts

Mimamsa : स्वरा भास्कर की अगली मर्डर मिस्ट्री फिल्म है मिमांसा, ये है फिल्म में स्वरा का रोल

अभिनेत्री स्वरा भास्कर अपकमिंग मर्डर मिस्ट्री मिमांसा (Mimamsa) में एक बार फिर एक जांच अधिकारी…

17 mins ago

कोरोना वैक्सीन साइड-इफेक्ट्स : वैक्सीन जितनी असरदार होती है क्या साइड-इफेक्ट्स उतने ज्यादा होते हैं ?

जब आपको कोरोना की वैक्सीन लगती है तब आपको कुछ साइड-इफेक्ट्स होते हैं जैसे कि…

27 mins ago

कौन है पूजा रानी बोहरा ? जीत कर पहुंची क्वार्टर फाइनल्स में

भारतीय बॉक्सर पूजा रनी ने एक कदम और आगे रखते हुए क्वार्टर फाइनल्स में जगह…

37 mins ago

Pfizer और AstraZeneca वैक्सीन की एंटीबॉडीज़ 3 महीने में 50 % कम हो सकती हैं

जब यह वैक्सीन लगती हैं तब इनका असर बहुत ज्यादा रहता है और उसके बाद…

1 hour ago

कौन है दीपिका कुमारी ? यूएसए की जेनिफर फर्नांडेज को मात देते हुए 6-4 से आगे दीपिका

2009 से ही दीपिका  ने आर्चरी में अपना नाम कमाना शुरू किया जिसके बाद उन्हें…

1 hour ago

टोक्यो ओलिंपिक 2020: भारतीय बॉक्सर पूजा रानी पहुंची क्वार्टर फाइनल में

इंडियन बॉक्सर पूजा रानी (75 किग्रा) ने बुधवार को टोक्यो में अपने पहले ओलंपिक खेलों…

1 hour ago

This website uses cookies.