वैसे तो प्रेगनेंसी के समय हमें बहुत कुछ नया सीखने और समझने को मिलता है लेकिन इस दौरान सबसे बड़ी राहत की बात यही लगती है की डिलीवरी तक हमें पीरियड्स का सामना नहीं करना पड़ेगा। यहाँ तक की डिलीवरी के बाद भी कुछ दिन तक पीरियड हमें परेशान करने नहीं आता है1। इसलिए जब इतने लम्बे समय के बाद हमें पहली बार पीरियड्स होते हैं तो कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है। जानिए ऐसी ही कुछ ध्यान रखने वाली बातें:

1. जानें लोकिया के बारे में

लोकिया एक प्रकार का डिस्चार्ज है जो आप डिलीवरी के लगभग एक हफ्ते बाद आप एक्सपीरियंस करती हैं। आम तौर पर इसका रंग क्रीमी वाइट से रेड तक रेंज कर सकता है। पर ये पीरियड नहीं है इसलिए घबराने की ज़रूरत नहीं है। लोकिया काफी लाइट होता है और वाटरी होता है। इसकी स्मेल भी अच्छी होती है जो की बिलकुल पीरियड्स के तरह नहीं है। इसलिए लोकिया और पीरियड्स में कंफ्यूज होने की ज़रूरत नहीं है।

2. कब स्टार्ट होते हैं पीरियड्स?

आपको पीरियड्स कब होगा ये बहुत सारे फैक्टर्स पे डिपेंड करता है। अगर आप ब्रेस्टफीड करवाती हैं तो आपको बाकियों के मुकाबले पीरियड्स आलाते आएंगे क्योंकि ब्रेस्टमिल्क का हॉर्मोन प्रोलैक्टिन आपके रिप्रोडक्टिव होर्मोनेस को सप्रेस कर देता है। आम तौर पर पोस्टपार्टम के 6 महीने बाद पीरियड्स आता है। अगर आप ब्रेस्टफीड नहीं कराती हैं तो आपको पीरियड्स 3 महीने बाद भी आ सकता है।

3. आपके पीरियड्स में कुछ अंतर आ सकता है

डिलीवरी के बाद पहला पीरियड्स थोड़ा अलग हो सकता है। आपका पहला पीरियड्स आम पीरियड्स से ज़्यादा हैवी होगा जो समय के साथ लाइट होता जाएगा। आप अपने अंदर और और भी बदलाव देख सकती हैं जैसे की इर्रेगुलर पीरियड लेंथ, स्ट्रांगर या वीकेर क्रैम्प्स और पीरियड फ्लो में क्लॉट्स। अपने बदलावों को ध्यान में रखने के लिए आप अपने पीरियड्स के सारे बेहेवियर ट्रैक कर सकती हैं।

4. इन बातों पे संपर्क करें डॉक्टर से

पीरियड साइकिल में थोड़े बहुत चैंजेस स्वाभाविक हैं। लेकिन अगर आप इन में से किसी भी बातों से गुज़र रही हैं तो डॉक्टर से ज़रूर सलाह लें। ये बातें हैं:

  • एक घंटे में एक से ज़्यादा पैड यूज़ करना
  • 7 दिन से ऊपर ब्लीडिंग चलते रहना
  • सर दर्द या अचानक बुखार आना
  • बॉडी पेन
  • पीरियड फ्लो में बड़े बड़े क्लॉट्स

5. मैनेज करने में हो सकता है प्रॉब्लम

एक बेबी के साथ पीरियड्स को मैनेज करना बहुत मुश्किल लग सकता है वो भी तब जब एक साल से आप इससे दूर रही हों। इसलिए ये बहुत ज़रूरी है की आप इसको मैनेज करना सीखें। आप चाहे तो अपने गायनेकोलॉजिस्ट की मदद ले सकती हैं ताकि आप एक बेटर प्लान के साथ काम कर पाएं। बेबी के ख्याल रखते हुए अपनी बॉडी का अच्छे से ख्याल रखें।

Email us at connect@shethepeople.tv