“एन्त्रेप्रेंयूर्शिप की जंग लड़नी आसान नहीं है” – कहती हैं इनसाइट की सौम्या नंजुंडाइआह

Published by
STP Hindi Editor

सौम्या नंजुंडाइआह , इनसाइट की सीईओ हैं, भारत के दस सबसे बड़े डिजिटल मार्केटिंग सोल्युशन प्रोवाइडर्स में से एक हैं। उन्होंने 2010 में अपनी कंपनी शुरू की, एक समय जब डिजिटल व्यापार काफी हद तक नवजात ही था और वह हमेशा से मानती थी कि यह व्यापार का भविष्य है। वह कहती हैं, “हम यह स्ट्रैटेजीकली करते हैं. हम टैक्टिकल कैंपेन मैनेजमेंट नहीं करते. यही हमें कम्पटीशन से अलग रखता है.”

बंगलौर में पैदा और बड़ी हुईं सौम्या एक उद्यमिक परिवार का हस्सा हैं और न्यूयॉर्क में अपनी नौकरी छोड़ने के बाद अपने खुद के उद्यम को शुरू करना अनिवार्य महसूस हुआ। उन्होंने शून्य से व्यवसाय बनाने की प्रक्रिया का आनंद लिया है।

इनसाइट के काम करने के तरीके को समझाते हुए सौम्या हमें बताती हैं, “हम जो ब्रांड सँभालते हैं, हम उनके स्ट्रेटेजिक मार्केटिंग पार्टनर्स हैं. हम आमतौर पर एक कंसल्टिंग फेज से शुरू करते हैं जहां हम मिलकर एक मार्केटिंग ब्लूप्रिंट बनाते हैं. उसे हम एक निश्चित व्यवसाय लक्षय के साथ बांधकर उसे एक्सेक्यूटे करते हैं. हम कोशिश करते हैं कि हम परिणाम अवश्य दे.”

हम अमेरिका में बहुत से ग्राहकों के साथ काम करते हैं और हमने जो सबसे यादगार कार्य किये हैं उनमे से फ़ॉर्च्यून 100 कंपनी के ब्रांड स्ट्रेटेजी की पुन: मैपिंग है।”

सौम्या बताती हैं कि पर्याप्त धन की उपलब्धता के बिना व्यवसायिक रूप से एक व्यवसाय को शुरू करना कठिन है और इस प्रक्रिया ने उन्हें बहुत अधिक वित्तीय और संचालन अनुशासन सिखाया है।

पढ़िए : मिलिए आंड्ररा तंशिरीन से – हॉकी विलेज की संस्थापक

सौम्या बताती हैं कि पर्याप्त धन की उपलब्धता के बिना व्यवसायिक रूप से एक व्यवसाय को विकसित करना कठिन है और इस प्रक्रिया ने उन्हें बहुत अधिक वित्तीय और संचालन अनुशासन सिखाया है। वह कहती हैं, “मैं लगातार अच्छी क्वालिटी का काम देने में विश्वास करती हूँ और कभी-कभी मेरी टीम के लिए कठिनाइयों का सामना करना मुश्किल हो जाता है। लेकिन फिर, यही वो चीज़ है जो हमें अनोखा बनाती है।

उनका मानना ​​है कि जब वह वापस मुड़कर देखती हैं कि कंपनी कितनी दूर एक व्यवसाय के रूप में आई है और वह खुद कितनी आगे बढ़ी हैं, उन्हें लगता है कि यह उनके लिए एकदम सही जगह है।

एक कंपनी को इतनी ऊचाइयों तक लेकर जाने के बावजूद, सौम्या ज्यादातर दिनों में खुद के लिए समय निकालने में सक्षम रहती हैं- वे व्यायाम करती हैं और इससे अधिकांश दिनों में उनकी ऊर्जा बनी रहती है। सप्ताह के अंत में अपने परिवार के साथ समय बिताने से भी उन्हें काफी मदद मिलती है।

अपने रोमांचक एन्त्रेप्रेंयूर्शिप जर्नी में, सोम्या एक व्यक्ति और एक मार्गदर्शक के रूप में विकसित होने की कामना करती हैं. वे हर दिन विचित्र तरीके से जीना चाहती हैं.

पढ़िए : “इनोवेशन एन्त्रेप्रेंयूर्शिप का दिल है” – सुरभि देवरा

 

Recent Posts

जिया खान के निधन के 8 साल बाद सीबीआई कोर्ट करेगी पेंडिंग केस की सुनवाई

बॉलीवुड लेट अभिनेता जिया खान के मामले में सीबीआई कोर्ट 8 साल के बाद पेंडिंग…

18 seconds ago

दृष्टि धामी के डिजिटल डेब्यू शो द एम्पायर से उनका फर्स्ट लुक हुआ आउट

नेशनल अवॉर्ड-विनिंग डायरेक्टर निखिल आडवाणी द्वारा बनाई गई, हिस्टोरिकल सीरीज ओटीटी पर रिलीज होगी। यह…

57 mins ago

5 बातें जो काश मेरी माँ ने मुझसे कही होती !

बाते जो मेरी माँ ने मुझसे कही होती : माँ -बेटी का रिश्ता, दुनिया के…

1 hour ago

पूजा हेगड़े ने किया करीना को सपोर्ट सीता के रोल के लिए, कहा करीना लायक हैं

पूजा हेगड़े ने कहा कि करीना ने वही माँगा है जो वो डिज़र्व करती हैं।…

2 hours ago

मंदिरा बेदी ने राज कौशल के लिए पूजा की फोटोज़ बच्चों के साथ शेयर की

राज कौशल को गए एक महीना हो गया है। आज मंदिरा अपने घर पर एक…

2 hours ago

CBSE Class 12 Result: लड़कियों ने इस साल भी 0.54 प्रतिशत के अंतर से लड़कों को पीछे छोड़ा

बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "लड़कियों ने लड़कों से 0.54 प्रतिशत बेहतर प्रदर्शन…

2 hours ago

This website uses cookies.