छह बार चैंपियन रह चुकी बॉक्सर मैरी कॉम ने भारत को गौरव दिलाते हुए एक और गोल्ड मैडल जीता है। उन्होंने 23 वें राष्ट्रपति कप में ऑस्ट्रेलिया के अप्रैल फ्रैंक्स को 5-0 से हराकर इंडोनेशिया की लाबुआन बाजो में 51 किग्रा वर्ग के फाइनल में गोल्ड मैडल जीता। इतना ही नहीं, इवेंट में, महिला बॉक्सर ने फाइनल में एक शानदार प्रदर्शन किया और सभी चार स्वर्ण पदक जीते।

छह बार चैंपियन रह चुकी बॉक्सर मैरी कॉम ने भारत को गौरव दिलाते हुए एक और गोल्ड मैडल जीता है। उन्होंने 23 वें राष्ट्रपति कप में ऑस्ट्रेलिया के अप्रैल फ्रैंक्स को 5-0 से हराकर इंडोनेशिया की लाबुआन बाजो में 51 किग्रा वर्ग के फाइनल में गोल्ड मैडल जीता।

मैरी कॉम ने ट्वीट किया और कहा “मेरे और मेरे देश के लिए प्रेजिडेंट कप इंडोनेशिया में मेरा गोल्ड मैडल। गोल्ड मैडल जीतने का मतलब है कि आप और आगे तक जाने के लिए तैयार हैं, कड़ी मेहनत करते हैं और बाकी प्लेयर्स की तुलना में अधिक प्रयास करते हैं। मैं अपने सभी कोचों और सहायक कर्मचारियों को धन्यवाद देती हूं। ”

36 वर्षीय मुक्केबाज और दो बच्चों की एक माँ, मैरी कॉम ने मई में इंडिया ओपन बॉक्सिंग टूर्नामेंट में गोल्ड मैडल जीता था। वह ओलंपिक क्वालिफिकेशन पर अपना ध्यान फोकस कर रही है।

मैरी कॉम, जिन्होंने पिछले साल दिल्ली में अपना छठा वर्ल्ड टाइटल जीता था, वे रूस के येकातेरिनबर्ग में वर्ल्ड चैंपियनशिप  में 2020 टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने की कोशिश में हैं, जो 7 से 21 सितंबर तक आयोजित होगी।

भारत ने कुछ अन्य महत्वपूर्ण उल्लेख देखे। सिमरनजीत कौर ने इंडोनेशिया के एशियाई खेलों की ब्रोंज मैडल विजेता हसना हुवातुन के खिलाफ फाइनल में जगह बनाई। एशियाई बॉक्सिंग चैंपियनशिप में सिल्वर मैडल विजेता ने अपने प्रतिद्वंद्वी को 5-0 से हराया।

जीतने का मतलब है कि आप बहुत आगे तक जाने के लिए तैयार हैं, आप कड़ी मेहनत करते हैं और किसी और की तुलना में अधिक प्रयास करते हैं – मैरी कॉम

हम मैरी कॉम को उनके जज़्बे और मेहनत के लिए सलाम करते हैं. हम मैरी कॉम को उनके जज़्बे और मेहनत के लिए सलाम करते हैं। कुछ दिनों पहले एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि वह २०२० ओलिंपिक के बाद रिटायर होना चाहती हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv