न्यूज़

92 वर्षीय महिला, 12 दिनों में COVID-19 को हराकर सभी के लिए प्रेरणा बनी

Published by
Ayushi Jain

COVID-19 से महज 12 दिनों में रिकवर हुई 92 वर्षीय महिला, डॉक्टरों का दावा है कि उनके “पॉजिटिव रवैये और रेग्युलर लंग एक्सेरसाइज ” ने  उनकी रिकवरी को आसान बना दिया। अब वह COVID-19 हराकर ठीक हो गई हैं।

कोटा की रहने वाली शीला देवी को 18 अप्रैल को COVID-19 पॉजिटिव टेस्ट करने के बाद महाराव भीम सिंह (MBS) अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रिपोर्ट के अनुसार, अस्पताल में भर्ती होने के पहले सात दिन बहुत महत्वपूर्ण थे। हालाँकि, उनकी कंडीशन में सुधार होने के बाद उन्हें घर के आइसोलेशन में रखा गया था।अब वह COVID-19 हराकर ठीक हो गई हैं।

उनके बेटे, डॉ. अरविंद सक्सेना, जो एक प्रसिद्ध हिस्टोरियन है और देख नहीं सकते हैं, ने बताया कि उनकी माँ को शुरू से ही ऑक्सीजन सपोर्ट दिया गया था।

डॉ. सक्सेना ने यह कहते हुए अपनी मां की स्थिति में सुधार के बारे में बताया, “शुक्रवार को, ‘माँ’ ने खुद  स्नान किया और दिन की सभी नार्मल एक्टिविटीज़ खुद की।”

92 वर्षीय महिला ने प्रोनिंग द्वारा COVID -19 को हराया

उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों ने उनके पॉजिटिव रवैये और एनर्जी को स्वीकार किया। उन्होंने दावा किया कि दवाओं और अस्पताल में भर्ती होने के बजाय उनकी बहादुरी उनके शीघ्र ठीक होने का एकमात्र कारण थी।

अस्पताल में COVID​​-19 वार्ड के प्रभारी डॉ सी पी मीणा ने वृद्ध व्यक्तियों के इफ़ेक्ट होने के जोखिम की पहचान की। उन्होंने कहा कि बुढ़ापे में, फेफड़े सबसे आसानी से पीड़ित होते हैं और रोगी की इम्युनिटी भी कम हो जाती है, जिससे रिकवरी वास्तव में मुश्किल हो जाती है।

“दवाओं और समय पर अस्पताल में भर्ती होने के अलावा, एक पॉजिटिव रवैया और एनर्जी उनके जल्दी ठीक होने के पीछे एकमात्र कारण था। यदि किसी रोगी का सकारात्मक रवैया है और स्पाइरोमीटर के साथ लंग एक्सेरसाइज करने में एक्टिव है, तो उसका कोरोना को हराना सुनिश्चित है और शीला देवी ने यह सब एक्टिव रूप से किया।

एक अन्य हालिया घटना में, उत्तर प्रदेश के गोरखपुर की एक 82 वर्षीय महिला ने “प्रोनिंग एक्टिविटी” का उपयोग करके COVID -19 को हराया, जो शीला देवी द्वारा खुद को ठीक करने के लिए इस्तेमाल की गई विधि के समान है।

विद्या कुमारी का ऑक्सीजन लेवल केवल चार दिनों में 79 से 94 हो गया, डॉक्टरों ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने के लिए “प्रोनिंग” के अभ्यास का श्रेय दिया।

हरि मोहन श्रीवास्तव ने बताया, “संक्रमित होने के दौरान, एक दिन उनके ऑक्सीजन का लेवल 79 तक पहुँच गया… धीरे-धीरे, सिचुएशन में सुधार हुआ और चार दिनों में ऑक्सीजन का लेवल 94 हो गया। वह अब पूरी तरह से हेअल्थी  हैं और उनका ऑक्सीजन लेवल इन दिनों 97 है। “

Recent Posts

स्टडी में सामने आया कोरोना पेशेंट के आंसू से भी हो सकता है कोरोना

कोरोना की दूसरी लहर फिल्हाल थमी ही है और तीसरी लहर के आने को लेकर…

23 seconds ago

रियल लाइफ चक दे! इंडिया मूमेंट : भारतीय महिला हॉकी टीम ने सेमीफइनल में पहुंच कर रचा इतिहास

गुरजीत कौर के एक गोल ने महिला टीम को ओलंपिक खेलों में अपने पहले सेमीफाइनल…

47 mins ago

मेरी ओर से झूठे कोट्स देना बंद करें : शिल्पा शेट्टी का नया स्टेटमेंट

इन्होंने कहा कि यह एक प्राउड इंडियन सिटिज़न हैं और यह लॉ में और अपने…

3 hours ago

नीना गुप्ता की Dial 100 फिल्म के बारे में 10 बातें

गुप्ता और मनोज बाजपेयी की फिल्म Dial 100 इस हफ्ते OTT प्लेटफार्म पर रिलीज़ हो…

3 hours ago

Watch Out Today: भारत की टॉप चैंपियन कमलप्रीत कौर टोक्यो ओलंपिक 2020 में गोल्ड जीतने की करेगी कोशिश

डिस्कस थ्रो में भारत की बड़ी स्टार कमलप्रीत कौर 2 अगस्त को भारतीय समयानुसार शाम…

4 hours ago

Lucknow Cab Driver Assault Case: इस वायरल वीडियो को लेकर 5 सवाल जो हमें पूछने चाहिए

चाहे लड़का हो या लड़की किसी भी व्यक्ति के साथ मारपीट करना गलत है। लेकिन…

5 hours ago

This website uses cookies.