डाइवोर्स लेना तो आम बात है और उसमे प्रॉपर्टी का बंटवारा भी पर पहली बार ऐसा होगा की एक पत्नी को मिलेंगे उसके गरेलु काम करने के पैसे। ऐसा केस चीन में सामने आया है जहा एक पत्नी ने पांच साल के बाद डाइवोर्स लिया और पांच साल का घर का काम करने के पैसे लिए। चीन कोर्ट ने आर्डर दिए पहली बार पति देगा पत्नी को घरेलु काम के पैसे

डाइवोर्स कोर्ट के मुताबित पत्नी को हर महीने 22 ,4428 रूपए और साथ ही साथ डाइवोर्स के वक़्त 50,0000 रूपए दिए गए

ऐसा चीन में पहली बार किसी भी केस में हुआ है। ऐसा इसलिए हो पाया है क्योंकि चीन मे पिछले महीने ही नया लॉ आया है। लॉ के मुताबित अगर किसी पार्टनर ने शादी के बाद ज्यादा ज़िम्मेदारी उठायी है जैसे की घर का काम ,बच्चा सम्हालना , लड़के के साइड वाले माता -पिता का ध्यान रखना तो वो डाइवोर्स के वक़्त उसका भर पाई कर सकते हैं।

इस कपल ने 2020 में डाइवोर्स केस दर्ज किया था।

ये डाइवोर्स केस दर्ज करने के पहले दो साल से साथ में नहीं रह रहे थे। उनका एक बच्चा भी है जो की उसकी दादी के साथ रहता था। पत्नी ने डाइवोर्स के वक़्त साफ़ तौर ये बात रखी थी की प्रॉपर्टी बराबर बांटी जाएं और पैसे भी अलग से दिए जाएं क्योंकि उसके हस्बैंड ने घरके ना ही कोई काम किए थे और ना ही बच्चे को पला पोसा था। बीजिंग फंग्शन डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने महिला के फेवर में फैसला दिया और हर महीने तनखा और 5 लाख रूपए का पेमेंट भी देने को कहा।

इकोनॉमिक को-ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट रिपोर्ट के मुताबित चीन की महिलाएं इंडिया की महिलाओं की तरह हर दिन 4 घंटे अवैतनिक लेबर के रूप में काम करतीं हैं और इसी से 25 टाइम्स मेंस काम करते हैं। ये एक बहुत ही अच्छा स्टेप है और इसकी वजह से महिलाओं को बराबर अधिकार मिल पाएगा और घरेलु काम के नाम पर इनका शोषण नहीं होगा। चीन कोर्ट आर्डर

Email us at connect@shethepeople.tv