तमिल भाषा के डायरेक्टर और सिनेमैटोग्राफर केवी आनंद का दिल का दौरा पड़ने से चेन्नई में शुक्रवार, 30 अप्रैल को 54 वर्ष की आयु में निधन हो गया। रिपोर्ट्स के अनुसार, आनंद को चेन्नई में उनके घर पर दिल का दौरा पड़ा।

उन्होंने खुद को नजदीकी अस्पताल में पहुंचाया, जहां उन्होंने शुक्रवार को सुबह लगभग 3 बजे अपनी अंतिम सांस ली। आनंद का शव अडयार में उनके घर ले जाया जाएगा जहां लोग उनके अंतिम दर्शन कर सकेंगे।

केवी आनंद ने अपने करियर की शुरुआत एक फ्रीलांस फोटो जर्नलिस्ट के रूप में की थी और बाद में पुरस्कार विजेता सिनेमेटोग्राफर पीसी श्रीराम की सहायता करने लगे। उन्होंने 90 के दशक की शुरुआत में मणि रत्नम की थिरुदा थिरुडा और कमल हासन की देवर मगन जैसी श्रीराम के साथ कई तमिल फिल्मों में काम किया।

डायरेक्टर प्रियदर्शन ने अपने नए प्रोजेक्ट के लिए श्रीराम से संपर्क किया जब श्रीराम ने 1996 की फिल्म थेनविन कोम्बाथ के लिए आनंद के नाम की सिफारिश की थी।

उन्होंने 1999 में राजनीतिक ड्रामा फिल्म मुधलवन के लिए पहली बार डायरेक्टर एस। आनंद ने शिवाजी और बॉयज जैसी शंकर की फिल्मों की शूटिंग की। उन्होंने नायक: द रियल हीरो जैसी कई हिंदी फिल्मों के लिए कैमरा वर्क पर भी काम किया, जो मुधलवन, जोश, खाकी और द लीजेंड ऑफ भगत सिंह की हिंदी रीमेक थी।

फिल्म इंडस्ट्री के कई सदस्यों ने सोशल मीडिया पर फिल्म प्रोड्यूसर को अपनी श्रद्धांजलि दी। साउथ इंडियन फिल्म इंडस्ट्री के एक लोकप्रिय अभिनेता अल्लू अर्जुन ने आज सुबह अपने ट्वीट में लिखा कि आनंद एक अद्भुत डायरेक्टर और एक सज्जन व्यक्ति थे, जिन्हें हमेशा याद किया जाएगा।

मलयालम सिनेमा के एक्टर और सिंगर पृथ्वीराज सुकुमारन ने भी सिनेमैटोग्राफर को याद करते हुए कहा कि आनंद ने अपने करियर में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और भारतीय सिनेमा हमेशा उन्हें मिस करेगा।

 

Email us at connect@shethepeople.tv