न्यूज़

‘मेरी सहेली’ टीम ने भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन पर गर्भवती महिला को ट्रेन में डिलीवरी में मदद की

Published by
Yasmin Ansari

भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन पर रविवार को हावड़ा-यशवंतपुर एक्सप्रेस के डिब्बे में 27 वर्षीय एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया। आयशा खातून ने महिला यात्रियों को सहायता प्रदान करने के लिए रेलवे द्वारा गठित स्वयंसेवकों के एक विशेष समूह ‘मेरी सहेली’ टीम की सहायता से अपने बच्चे को जन्म दिया।

‘मेरी सहेली’ टीम ने भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन पर गर्भवती महिला को ट्रेन में डिलीवरी में मदद की

भुवनेश्वर स्टेशन के डायरेक्टर चित्तरंजन नायक ने मां और शिशु दोनों की चिकित्सा जांच के बाद रविवार को प्यार और स्नेह के प्रतीक के रूप में नाश्ते के साथ उन्हें जाने की टिकट की पेशकश की।

आयशा ने ANI को बताया, “मैं यशवंतपुर पहुंचने के लिए हावड़ा-यशवंतपुर एक्सप्रेस में यात्रा कर रही थी। मुझे कटक स्टेशन के पास लीवर में तेज दर्द होने लगा और भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन पर रेलवे दीदी और डॉक्टरों की मदद से एक बच्चे को जन्म दिया।” उन्होंने कहा, “बाद में, मुझे आगे के इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। मैं अपने नवजात बच्चे के साथ काफी स्वस्थ हूं। आज मैं ट्रेन से यशवंतपुर जाऊंगी, उसके लिए रेलवे ने मुझे बोर्ड का टिकट गिफ्ट किया है।”

भुवनेश्वर स्टेशन डायरेक्टर को हावड़ा-यशवंतपुर एक्सप्रेस में सवार टिकट कलेक्टर से आयशा के लेबर पेन की सूचना मिली। प्रारंभिक सूचना मिलने के बाद उन्होंने भुवनेश्वर स्टेशन पर मेरी सहेली समूह, एक स्वास्थ्य टीम और अन्य अधिकारियों को सूचित किया।

नायक ने कहा, “इस टीम की मदद से महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया। स्टेशन पर प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों की एक टीम ने कहा कि मां और नवजात दोनों स्वस्थ हैं।” प्रसव के बाद, मां और बच्चे को भुवनेश्वर के कैपिटल अस्पताल में ट्रांसफर कर दिया गया।

मेरी सहेली ने इससे पहले भी कई गर्भवती महिलाओं की मदद की है

मई 2019 में विरार स्टेशन पर एक 22 वर्षीय महिला ने लोकल ट्रेन के डिब्बे में बच्चे को जन्म दिया।

सोनी पटेल के रूप में पहचानी गई महिला अपने पति अजय के साथ लोकल ट्रेन के दिव्यांग कोच में सवार हुई। दंपति विरार के एक सरकारी अस्पताल में जा रहे थे क्योंकि महिला नौ महीने की गर्भवती थी। जब ट्रेन विरार पहुंचने वाली थी तो सोनी को प्रसव पीड़ा होने लगी। ट्रेन के विरार स्टेशन पहुंचते ही उसके पति ने मदद के लिए पुकारा। प्लेटफार्म पर विमला पाटिल नाम की कुली गर्भवती महिला की मदद के लिए दौड़ी। अन्य महिला कुलियों ने पाटिल के साथ मिलकर बच्ची के जन्म में मदद की

फीचर्ड इमेज क्रेडिट : Timesnownews.com

Recent Posts

शादी का प्रेशर: 5 बातें जो इंडियन पेरेंट्स को अपनी बेटी से नहीं कहना चाहिए

हमारे देश में शादी का प्रेशर ज़रूरत से ज़्यादा और काफी बार बिना मतलब के…

18 hours ago

तापसी पन्नू फेमिनिस्ट फिल्में: जानिए अभिनेत्री की 6 फेमस फेमिनिस्ट फिल्में

अभिनेत्री तापसी पन्नू ने बहुत ही कम समय में इंडियन एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में अपनी अलग…

19 hours ago

क्यों है सिंधु गंगाधरन महिलाओं के लिए एक इंस्पिरेशन? जानिए ये 11 कारण

अपने 20 साल के लम्बे करियर में सिंधु गंगाधरन ने सोसाइटी की हर नॉर्म को…

20 hours ago

श्रद्धा कपूर के बारे में 10 बातें

1. श्रद्धा कपूर एक भारतीय एक्ट्रेस और सिंगर हैं। वह सबसे लोकप्रिय और भारत में…

21 hours ago

सुष्मिता सेन कैसे करती हैं आज भी हर महिला को इंस्पायर? जानिए ये 12 कारण

फिर चाहे वो अपने करियर को लेकर लिए गए डिसिशन्स हो या फिर मदरहुड को…

22 hours ago

केरल रेप पीड़िता ने दोषी से शादी की अनुमति के लिए SC का रुख किया

केरल की एक बलात्कार पीड़िता ने शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का रुख कर पूर्व कैथोलिक…

24 hours ago

This website uses cookies.