ओडिशा एसिड अटैक सर्वाइवर ने की लॉन्ग टाइम फ्रेंड से शादी: एसिड अटैक सर्वाइवर प्रमोदिनी राउल और उनके मंगेतर सरोज साहू सोमवार को जगतसिंहपुर में शादी के बंधन में बंध गए। दोनों की जोड़ी को इकट्ठे अब पांच साल हो गए हैं और उन्होंने 2018 में सगाई कर ली थी। एसिड अटैक सर्वाइवर शादी

29 वर्षीय राउल, जिन्हे रानी भी कहा जाता है, पर 4 मई 2009 को संतोष वेदांत कुमार नामक एक सेना के जवान द्वारा कथित तौर पर एसिड से हमला किया गया था, जब रानी ने उसके शादी के प्रस्ताव को रिजेक्ट कर दिया था। रानी, ​​तब केवल 16 वर्ष की थी और एक स्थानीय कॉलेज में अपनी इंटरमीडिएट की पढ़ाई कर रही थी। वह 80 प्रतिशत तक जल गई थी और उनका विजन चला गया था । वह नौ महीने आईसीयू में रही और कटक के अस्पतालों में भी उन्होंने पांच साल बिताए। एफआईआर दर्ज होने के बाद, 2012 में पुलिस द्वारा “नो एविडेंस” का हवाला देते हुए केस को बंद कर दिया गया था।

शादी करना का निर्णय

“जिस समाज में किसी लड़की के चेहरे को शादी के लिए ज्यादा महत्व दिया जाता है, मैं वहाँ इसके बारे में कभी सपने में भी नहीं सोच सकती। मैं अपने परिवार और अपने प्रेमी के परिवार की सहमति से शादी करना चाहती थी और यही हुआ, ” शादी पूरी होने के बाद राउल ने कहा। शादी सोमवार शाम को जगतसिंहपुर जिले के उनके गांव कनकपुर में हुई।

विधवा की तीन बेटियों में से एक, 29 वर्षीय राउल ने 2014 में 30 वर्षीय साहू से उस समय मुलाकात की थी जब वह अस्पताल में अपना इलाज करवा रही थी। वह भुवनेश्वर के बालकाटी क्षेत्र से एक मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव हैं और एक कंसल्टेशन के लिए उन्हें देखने गए। “एक बार, माँ दूर थी और मैंने बिस्तर में पेशाब किया। बिना किसी हिचकिचाहट के उसने इसे साफ कर दिया। मैंने उसे गले लगाया और रोयी। यह मेरे लिए अब तक का सबसे वल्नरेबल मोमेंट था। मैंने उनसे पूछा, ‘आप यह सब क्यों कर रहे हैं?’ और उन्होंने बस जवाब दिया,, हर काम के पीछे कोई रीज़न नहीं  होता । मैंने उस दिन उसके इतने करीब महसूस किया, काश मैं उसे देख पाती। मैंने उसके चेहरे को छुआ, इस उम्मीद में कि मई उसे पहचान सकू। ‘

साहू ने 2016 में उनसे शादी करने का प्रस्ताव रखा और जुलाई 2017 में उनकी एक आँख की सर्जरी हुई, इस जोड़े ने सगाई करने और एक नया जीवन शुरू करने का फैसला किया।

Email us at connect@shethepeople.tv