उत्तर प्रदेश के स्कूल अब कक्षा 8 तक के छात्रों के लिए 11 अप्रैल तक बंद रहेंगे। उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोनोवायरस के मामलों में वृद्धि के कारण इस प्रतिबंध को बढ़ाने का फैसला किया। उत्तर प्रदेश स्कूल बंद 

कोरोनोवायरस के मामलों में वृद्धि के कारण लिया गया ये फैसला :

पहले उत्तर प्रदेश के स्कूलो को 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला किया गया था, लेकिन यह अब बढ़ा दिया गया है। उत्तर प्रदेश राज्य में गुरुवार को 2,600 नए COVID-19 मामले और नौ मौतें हुई है। इन आंकड़ों ने COVID-19 केस लोड को 6,19,783 तक बढ़ा दिया है, और मरने वालों की संख्या 8,820 हो गई है। यह डेटा स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार है।

उत्तर प्रदेश के स्कूलों को 31 मार्च को बंद रखना था :

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य की COVID ​​-19 स्थिति देखने के बाद नए निर्देश जारी किए। उसी के लिए एक बैठक उनके 5-कालिदास मार्ग निवास पर आयोजित की गई थी। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि सभी संबंधित अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि स्कूल की अन्य कक्षाओं के छात्रों के लिए सभी COVID-19 के नियमो का पालन किया जाये।

शिक्षकों को अब अपने सभी एडमिनिस्ट्रेटिव वर्क के लिए स्कूलों में जाना जारी रखना होगा। हालांकि, किसी भी educational activities को नहीं किया जाएगा।

योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को COVID -19 अस्पतालों को फिर से एक्टिव करने और उसी के संबंध में शाम तक एक रिपोर्ट भेजने के लिए कहा है। उन्होंने लखनऊ, कानपुर, मेरठ, वाराणसी, प्रयागराज, गाजियाबाद और आगरा जैसे क्षेत्रों में विशेष सतर्कता का आदेश दिया है। गुरुवार को लखनऊ से 935 मामले सामने आए, इसके बाद इलाहाबाद से 242, वाराणसी से 198 और कानपुर नगर से 103 मामले सामने आए। यह एक स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया गया है।

मुख्यमंत्री ने COVID-19 के खिलाफ टीकाकरण दर बढ़ाने का भी आदेश जारी किया है। उत्तर प्रदेश स्कूल बंद 

Email us at connect@shethepeople.tv