Vaginal Dryness During Sex: ड्रायनेस से इंटरकोर्स में होती है प्रॉब्लम

Vaginal Dryness During Sex: ड्रायनेस से इंटरकोर्स में होती है प्रॉब्लम Vaginal Dryness During Sex: ड्रायनेस से इंटरकोर्स में होती है प्रॉब्लम

Apurva Dubey

11 Aug 2022

महिलाओं की बढ़ती उम्र के कारण उनके वजाईना वाल कमजोर होने लगती हैं और कई हार्मोनल बदलाव भी देखने को मिलते हैं। वजाइना वाल के पतले हो जाने के कारण मॉइस्चर पैदा करने वाले सेल्स कम हो जाते हैं और वजाइना लगातार ड्राई रहने लगती है। योनि के सूखेपन के ऊपर डॉक्टर्स और गायिनकोलॉजिस्ट ने कई कारण और निवारण बताएं हैं, जिनका इस्तेमाल करने हम इंटरकोर्स के दौरान वजाइना ड्राईनेस की समस्या से निजात पा सकते हैं।   

Vaginal Dryness During Sex

योनि का सूखापन लोगों को असहज कर सकता है। समस्या प्रचलित है और कई महिलाओं को प्रभावित करती है, फिर भी यह महिलाओं को अपने डॉक्टर या साथी के साथ लक्षणों को संबोधित करने से रोक सकती है। आपको यह समझना होगा कि योनि से जुड़ी यह समस्या महिलाओं में काफी आम हैं। 

वैसे तो वजाइना ड्राईनेस कोई बहुत बाई समस्या तो नहीं, लेकिन हाँ, यह हमारे लाइफ को नेगेटिव वे में एफेक्ट करती हैं। इसका असर हमारे सेक्सुअल रिलेशनशिप और हमारे पार्टनर के ऊपर भी पड़ता है। असल में वजाइना का सूखापन आपके कम्फर्टेबल सेक्स में बढ़ा डालता है। योनि का सूखा होने के कारण आप सहज रूप से इंटरकोर्स का आनंद नहीं उठा पाते, क्योंकि यह काफी दर्दनाक होता है। 

ड्रायनेस से इंटरकोर्स में होती है प्रॉब्लम

उम्र बढ़ने के साथ महिलाओं में एस्ट्रोजन का उत्पादन कम होने लगता है। एक अवधि को पेरिमेनोपॉज़ के रूप में जाना जाता है जिसके परिणामस्वरूप आपके पीरियड्स बंद हो जाते हैं। सामान्य वजाइना PH 3.8 और 5.0 के बीच होता है। उम्र के साथ यह लुब्रिकेशन बंद होने लगता है और आपकी वजाइना ड्राई हो जाती है। 

सेक्सुअल अराउज़ल आपके वजाइना में तरल पदार्थ पैदा करती है, जो कि इंटरकोर्स के दौरान एक Natural Lubricant का काम करता है। गर एस्ट्रोजन के स्तर में गिरावट होती है, तो रक्त का कम प्रवाह योनि की परत को पतला कर देगा।नतीजतन, योनि पीएच स्तर बढ़ जाएगा और योनि की एसिडिक क्वालिटी घट जाएगी। यदि योनि का पीएच स्तर अम्लीय प्रकृति का नहीं है, तो यह योनि में सूखापन पैदा करने वाले हानिकारक बैक्टीरिया के प्रति अधिक संवेदनशील होगा। 

हेमशा एस्ट्रोजन का घट जाना ही वजाइना ड्राईनेस की वजह नहीं, कभी-कभी प्रेगनेंसी के दौरान, होर्मोनेस के उतर-चढ़ाओ में भी महिलाओं को वजाइना ड्राईनेस का सामना करना पड़ता है। अगर आपो भी वजाइना ड्राईनेस की प्रॉब्लम महसूस हो रही हो तो, आप ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें यह आपके योनि को नमी पहुंचता रहेगा।     


अनुशंसित लेख