भारतीय इतिहास की 5 नारीवादी महिलाएँ

सावित्रीबाई फुले को भारत की प्रथम महिला शिक्षिका के रूप में जाना जाता है। सावित्रीबाई फुले ने शिक्षा का अधिकार, जो केवल ऊँची जाती के पुरुषों के पास था, दलितों और महिलाओं तक पँहुचाया।

Read More
अगर आपको कोई पसंद नहीं है और आप उनसे बात नहीं करना चाहतें है तो उसे कहने मे शाय नहीं होना चाहिए।
Read More

मैं बाल लम्बे रखूँ या शेव करूँ, ये मेरा फ़ैसला है!

बालों को हमेशा ही लड़कियों की खूबसूरती से जोड़ कर देखा गया है। इसलिए कई लड़कियों को स्टूडेंट लाइफ़ में बाल बढ़ाने की मनाई हो जाती है और शादी में बाल बढ़ाना अनिवार्य हो जाता है।

Read More

हमारे बारे में

शीदपीपल.टीवी भारत का पहला महिला-केंद्रित मीडिया प्लेटफार्म है. हम महिलाओं की जर्नी, और उनकी कहानियों को बढ़ावा देने के लिए समर्पित हैं. हम उन्हें एक ऐसे अद्बुद्ध नेटवर्क से जोड़ते हैं जो उन्हें सशक्त बनाता है,उन्हें प्रेरित करता है और उन्हें आगे बढ़ने का बढ़ावा देता है।

भारत में प्रत्येक गुज़रते साल के साथ महिलाएं ऑनलाइन आ रही हैं. उन्हें एक ऐसे प्लेटफार्म की ज़रुरत है जो उन्हें समझ पाए. हम उन महिलाओं से जुड़ते हैं जो नए विचारों और प्रेरणा के साथ दुनिया को समृद्ध करते हैं.

पुरस्कार विजेता पत्रकार शैली चोपड़ा द्वारा स्थापित, शीदपीपल.टीवी वो आवाज है जो भारतीय महिलाओं को आज चाहिए।