हिन्दू शादी की 4 पितृसत्तात्मक रस्में जो आपको पता होनी चाहिए

हिंदू विवाह पितृसत्तात्मक रस्में

कन्यादान एक ऐसा कोमोडीफिकेशन है जिसे खुशी-खुशी स्वीकार लिया जाता है। स्त्री खुद समाज के इस दोगलेपन को समझ नहीं पाती इसीलिए सड़क चलते कोई “माल” बोलदे तो तुरंत भड़क उठती है परंतु जब पूरे समाज के सामने उसके इंसानी रूप को अस्वीकार करके उसे सामान बनाया जाता है, तब कुछ नहीं कहती।

Read More

हमारे बारे में

शीदपीपल.टीवी भारत का पहला महिला-केंद्रित मीडिया प्लेटफार्म है. हम महिलाओं की जर्नी, और उनकी कहानियों को बढ़ावा देने के लिए समर्पित हैं. हम उन्हें एक ऐसे अद्बुद्ध नेटवर्क से जोड़ते हैं जो उन्हें सशक्त बनाता है,उन्हें प्रेरित करता है और उन्हें आगे बढ़ने का बढ़ावा देता है।

भारत में प्रत्येक गुज़रते साल के साथ महिलाएं ऑनलाइन आ रही हैं. उन्हें एक ऐसे प्लेटफार्म की ज़रुरत है जो उन्हें समझ पाए. हम उन महिलाओं से जुड़ते हैं जो नए विचारों और प्रेरणा के साथ दुनिया को समृद्ध करते हैं.

पुरस्कार विजेता पत्रकार शैली चोपड़ा द्वारा स्थापित, शीदपीपल.टीवी वो आवाज है जो भारतीय महिलाओं को आज चाहिए।