इन 8 तरीकों से पीरियड्स पर करें अपनी बेटी से बात

अपने बच्चों को चोट लगने से बचाने के टिप्स

डियर मां, हम जानते हैं कि ये आपके लिए ज्यादा तो नही लेकिन थोड़ा  मुश्किल ज़रूर होगा। लेकिन हमारे अच्छे फ्यूचर के लिए और पीरियड्स को टैबू को टमाने के लिए सबसे पहला कदम इस पर खुल कर बात करना ही है। इसकी शुरूआत आप से ही होनी चाहिए।

Read More
Period Conversations नार्मलाइज़
Read More

पीरियड्स आखिर कैसे और क्यों होते हैं ?

प्यूबर्टी के वक्त लड़कियों में होने वाला सबसे एहम शारीरिक बदलाव है पीरियड्स का शुरू होना | प्यूबर्टी एक ऐसा स्टेज़ है जब बच्चों के बॉडी के रिप्रोडक्शन पार्ट पूरी तरह से डेवलप हो जाते है| लड़कियों में जब यह पड़ाव आता है तब उनके पीरियड्स शुरू हो जाते है | इसका मतलब यही है कि अब उनका शरीर बेबी को बर्थ देने लायक हो गया है।

Read More
बच्चे की पहली टीचर मां
Read More

पीरियड्स के बाद भी बढ़ती है लंबाई, जानें कैसे

लड़कियों में 12 से 18 साल की उम्र तक हड्डियों और जोड़ों के बीच में एक कार्टिलेज या नरम हड्डी रहती है। जो हमारी हड्डियों को बढ़ने देती है, और लंबा होने देती है। लेकिन 12 से 18 साल की उम्र में ये नरम हड्डी या कार्टिलेज खत्म हो जाता है।

Read More
पीरियड्स में पेट दर्द
Read More

पीरियड्स से जुड़ी इन समस्याओं को बिल्कुल भी न करें अनदेखा

स्केंटी पीरियड्स वो पीरियड होते हैं जब पीरियड के दौरान आपको कम ब्लीडिंग हो। इस पीरियड को अच्छे से पहचानने के लिए आपको अपने 3 महीनों के पीरियड सर्कल को ऑब्सर्व करना होता है। अगर 3 महिनें तक आपको कम ब्लीडिंग हो रही है तो इसका मतलब आपको स्केंटी पीरियड्स की प्रॉब्लम है। इसमें ज्यादा घबरानें वाली बात नही है।

Read More
बॉलीवुड फेमिनिस्ट पुरुष किरदार
Read More

बॉलीवुड के ऐसे पांच पुरुष किरदार जो फेमिनिज्म को सपोर्ट करते हैं

फिल्म दिल धड़कने दो में फरहान एक straight forward journalist का रोल प्ले कर रहे हैं। फरहान जो एक फेमिनिस्ट भी हैं वो फिल्म की हीरोइन आयशा को बहुत पसंद करते हैं और उनका कैरक्टर वीमेन एम्पावरमेंट (women empowerment ) को भी सपोर्ट करता है

Read More
Smriti Irani menstruation
Read More

स्मृति ईरानी का कहना है कि लड़कों को भी Menstrual Hygiene पर शिक्षित किया जाए

Menstrual Hygiene Day पर, स्मृति ईरानी ने ‘Menstural Education’ का मैसेज स्प्रेड किया. उन्होंने सिर्फ लड़कियों को ही नहीं बल्कि लड़कों को…

Read More

हमारे बारे में

शीदपीपल.टीवी भारत का पहला महिला-केंद्रित मीडिया प्लेटफार्म है. हम महिलाओं की जर्नी, और उनकी कहानियों को बढ़ावा देने के लिए समर्पित हैं. हम उन्हें एक ऐसे अद्बुद्ध नेटवर्क से जोड़ते हैं जो उन्हें सशक्त बनाता है,उन्हें प्रेरित करता है और उन्हें आगे बढ़ने का बढ़ावा देता है।

भारत में प्रत्येक गुज़रते साल के साथ महिलाएं ऑनलाइन आ रही हैं. उन्हें एक ऐसे प्लेटफार्म की ज़रुरत है जो उन्हें समझ पाए. हम उन महिलाओं से जुड़ते हैं जो नए विचारों और प्रेरणा के साथ दुनिया को समृद्ध करते हैं.

पुरस्कार विजेता पत्रकार शैली चोपड़ा द्वारा स्थापित, शीदपीपल.टीवी वो आवाज है जो भारतीय महिलाओं को आज चाहिए।