टॉप स्टोरीज

डिजिटल ट्रस्ट डायलाग: भारत को महिलाओं के लिए सुरक्षित डायलाग की जरूरत है

Published by
Ayushi Jain

मानव सुरक्षा इस समय की आवश्यकता है और इस समय उपलब्ध सर्वोत्तम तकनीक का उपयोग करके इसे सुनिश्चित किया जा सकता है। दूसरे शब्दों में महिलाओं के लिए ऑनलाइन सुरक्षा इस समय की अत्यधिक आवश्यकता बन गई है। भारत के खिलाफ ऑनलाइन अपराध को कम करने के लिए महिलाओं को महिलाओं के लिए सुरक्षा वार्ता की जरूरत है।

शहरी और अर्ध शहरी केंद्र, पर्यटन स्थलों और राजमार्गों में महिलाओं पर लगातार हमले हुए हैं। यहां तक ​​कि स्कूली  लड़कियों को भी लक्षित किया जा रहा है। यद्यपि कुछ हेल्पलाइन टेलीफोन नंबर हैं जो महिलाओं की सुरक्षा के लिए दिए गए  हैं लेकिन दुर्भाग्य से कई मामलों में प्रतिक्रिया या तो देरी से है या नकारात्मक है। अब कुछ लंबे समय तक चलने वाले समाधानों का समय है। शायद महिलाओं की सुरक्षा में सुधार करने के लिए एक संवाद और वार्तालाप ज़रूरी है। हमें अभी भी इस क्षेत्र में कुछ तेज और सटीक सेवाओं की आवश्यकता है। इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को सुरक्षित सेवाएं प्रदान करनी चाहियें।

यद्यपि कुछ हेल्पलाइन टेलीफोन नंबर हैं जो महिलाओं की सुरक्षा के लिए समर्पित हैं लेकिन दुर्भाग्य से कई मामलों में प्रतिक्रिया या तो देरी से है या नकारात्मक है।

महिलाओं के लिए सुरक्षा की ऑनलाइन प्रणाली व्यवसाय में लगे व्यक्तियों की जवाबदेही बढ़ाने के लिए बाध्य है। साथ ही कॉल किस स्थान ढूंढने में मददगार और अधिक सटीक है। यहाँ पीड़ितों को सूचित करने की भी संभावना है जो न केवल जरूरतमंद लोगों की मदद करेंगे बल्कि कई अन्य लोगों के बीच जागरूकता फैलाने की भी संभावना रखते है। महिलाओं के खिलाफ क्रूरता, उत्पीड़न और कई अन्य बीमारियों का इलाज एक ही प्रकृति नहीं है। वे ‘महिला होने’ के एक बढ़ते टैग के साथ जीती हैं। उसी समय बाहरी स्रोतों से सहायता की आवश्यकता होती है और ऐसे लोगो  को स्वयं के भीतर आत्मविश्वास  की आवश्यकता होती है।

महिलाओं के लिए ऑनलाइन सुरक्षा महत्वपूर्ण है। हमें इस पर तेजी से आगे बढ़ना चाहिए।

बढ़ते साइबर अपराधों ने ऑनलाइन सेवाओं में लोगों के विश्वास को कमजोर कर दिया है। विशेष रूप से इस तरह के मामले में। क्या  सॉफ़्टवेयर झूठ बोल सकता है? क्या वे अधिकारियों का पक्ष ले सकते हैं? शायद जवाब यही है। क्या हम वास्तव में सभ्य हैं? जब भी छेड़छाड़, बलात्कार, दुल्हन जलने की रिपोर्ट होती है तो यह सवाल हमें हिट करता है। हम क्या कर सकते हैं? क्या हम कुछ भी कर सकते हैं? हमें इस मामले के बारे में सोचना चाहिए। क्या हम शुरुआती चरण से समाधान ढूंढ सकते हैं? महिलाओं के लिए ऑनलाइन सुरक्षा महत्वपूर्ण है। हमें इस पर तेजी से आगे बढ़ना चाहिए।

 

Recent Posts

कौन है अशनूर कौर ? इस एक्ट्रेस ने लाए 12वी में 94%

अशनूर कौर एक भारतीय एक्ट्रेस और इन्फ्लुएंसर हैं जिनका जन्म 3 मई 2004 में हुआ…

29 mins ago

कमलप्रीत कौर कौन हैं? टोक्यो ओलंपिक के फाइनल में पहुंची ये भारतीय डिस्कस थ्रोअर

वह युनाइटेड स्टेट्स वेलेरिया ऑलमैन के एथलीट के साथ फाइनल में प्रवेश पाने वाली दो…

2 hours ago

टोक्यो ओलंपिक 2020: भारतीय डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर फ़ाइनल में पहुंची

भारत टोक्यो ओलंपिक में डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर की बदौलत आज फाइनल में पहुचा है।…

2 hours ago

क्यों ज़रूरी होते हैं ज़िंदगी में फ्रेंड्स? जानिए ये 5 एहम कारण

ज़िंदगी में फ्रेंड्स आपके लाइफ को कई तरह से समृद्ध बना सकते हैं। ज़िन्दगी में…

14 hours ago

This website uses cookies.