5 Lessons Of A Healthy Relationship: सीखते हैं भावनाओं को व्यक्त करना

5 Lessons Of A Healthy Relationship: सीखते हैं भावनाओं को व्यक्त करना 5 Lessons Of A Healthy Relationship: सीखते हैं भावनाओं को व्यक्त करना

Sanjana

14 Jun 2022

कोई रिलेशनशिप अच्छी हो या बुरी, वह हमें कुछ ना कुछ तो जरूर सिखाती है। यह हमें अपने आप के बारे में बहुत सारी नई चीजें जानने में भी मदद करती है। यह हमें अपनी गलतियों को दोहराने से सचेत करती है और हमें और भी ज्यादा बेहतर इंसान बना देती है। अपनी मंजिल को पाने के लिए सबक सीखना बहुत जरूरी होता है। किसी भी रिलेशनशिप से हमें अपनी आने वाली जिंदगी के लिए सबक लेना चाहिए।

हेल्थी रिलेशनशिप के सबक -

1. कमिटमेंट हमें मज़बूत बनाती है

कई लोगों का मानना है एक दूसरे का जिंदगी भर साथ निभाने की कमिटमेंट लोगों को कमजोर बना देती है। लेकिन सच्चाई इससे बिल्कुल अलग है। कमिटमेंट हमें और भी ज्यादा मजबूत और बेहतर इंसान बना देती है। जो इंसान हम अकेले होने पर होते हैं, वह इंसान रिलेशनशिप वाले इंसान से बहुत ही अलग होता है। रिलेशनशिप हमें जिम्मेदारियां संभालना सिखाती है और अनुभव देती है।

2. तुम परफेक्ट नहीं हो

एक हेल्थी रिलेशनशिप आप को सिखाती है कि आप परफेक्ट नहीं है। आप अपने पार्टनर से बहुत सारी अच्छी और नई चीजें सीखते हैं। उसकी बहुत सी गलतियों को ढूंढ कर उन्हें माफ करते हैं। यह आपकी माफ करने की क्षमता को बढ़ाता है और आपको सिखाता है कि आप भी गलतियां कर सकते हैं। 

3. बदलावों की आदत

एक हेल्थी रिलेशनशिप में आप नए नए बदलावों को स्वीकार करना सीख जाते हैं। जब आप अकेले रहते हैं तो आपको अपने तरीकों के अलावा दूसरे सभी तरीके गलत लगते हैं। लेकिन जब आप अपने पार्टनर के साथ रहते हैं तो चीजें बदल जाती है। आप का हर बदलाव सिर्फ आपकी मर्जी से नहीं बल्कि आपकी पार्टनर की मर्जी से भी होता है।

4. भरोसा करना

आप इससे सीखते हैं कि भरोसा कितना महत्वपूर्ण होता है। बिना भरोसे के आप खुशी से नहीं रह सकते। जब आप किसी पर भरोसा करते हैं तो आपके दिल को शांति मिलती है। आप उस इंसान के साथ अपनी चीजें शेयर कर सकते हैं। यह आपको एक सिक्योरिटी देता है कि आपका पार्टनर आपके साथ कुछ गलत नहीं कर सकता।

5. भावनाओं का संचार

एक रिलेशनशिप आपको भावनाओं को समझने और समझाने में मदद करती है। आप दूसरों की भावनाओं का ध्यान रखने लगते हैं। आप अपने पार्टनर के साथ अपनी भावनाएं शेयर कर के खुद के बारे में और भी ज्यादा अच्छे से जान पाते हैं। अपनी भावनाओं को व्यक्त करने से किसी के बीच गलतफहमी भी नहीं होती है।

अनुशंसित लेख