Advertisment

Baisakhi 2024: 10 बातें जो हर किसी को पता होनी चाहिए

वैसाखी, भारत में मनाए जाने वाले सबसे खुशी के त्योहारों में से एक है, जो न केवल फसल कटाई का जश्न मनाता है बल्कि समृद्ध इतिहास और परंपराओं को भी समेटे हुए है।

author-image
Vaishali Garg
एडिट
New Update
Baisakhi 2024

वैसाखी, भारत में मनाए जाने वाले सबसे खुशी के त्योहारों में से एक है, जो न केवल फसल कटाई का जश्न मनाता है बल्कि समृद्ध इतिहास और परंपराओं को भी समेटे हुए है। आइए जानते हैं वैसाखी के बारे में दस अनोखी बातें:

Advertisment

Baisakhi 2024: 10 अनोखी बातें जो हर किसी को पता होनी चाहिए

1. तिथि और महत्व: वैसाखी हर साल भारतीय कैलेंडर के अनुसार वैशाख महीने के पहले दिन, जो सामान्यतः अप्रैल के मध्य में पड़ता है, मनाई जाती है. यह फसल कटाई के मौसम की शुरुआत का प्रतीक है और समृद्धि तथा नए साल का स्वागत करती है।

2. सिखों के लिए विशेष महत्व: वैसाखी सिखों के लिए सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है। 1699 ईस्वी में इसी दिन गुरु गोबिंद सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की थी। खालसा एक ऐसा समुदाय है जो समानता, सेवा और बलिदान के सिद्धांतों पर आधारित है।

Advertisment

3. पंजाब में प्रमुख उत्सव: वैसाखी मुख्य रूप से पंजाब में मनाई जाती है, जहाँ भव्य नगाड़े की धुन, भंगड़ा और गिद्दा जैसे लोक नृत्य देखने को मिलते हैं। लोग रंगीन कपड़े पहनते हैं, गुरुद्वारों में मत्था टेकते हैं, और लंगर (सामुदायिक भोजन) का आयोजन करते हैं।

4. फसल कटाई का उत्सव: वैसाखी फसल कटाई के त्योहार के रूप में भी मनाई जाती है, खासकर गेहूं की फसल के लिए। किसान कड़ी मेहनत के बाद फसल की पैदावार के लिए भगवान का धन्यवाद करते हैं और आने वाले साल के लिए अच्छी फसल की कामना करते हैं।

5. देशभर में मनाया जाता है: हालाँकि वैसाखी पंजाब में सबसे प्रमुख है, लेकिन इसे पूरे भारत में सिख समुदाय और अन्य लोग भी हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं।

Advertisment

6. बैसाखी का अर्थ: "बैसाखी" शब्द संस्कृत के "वैशाख" महीने से आया है। कुछ मान्यताओं के अनुसार, यह शब्द "बिसु" से निकला है जिसका अर्थ "बराबर" होता है, जो फसल कटाई के दौरान सामाजिक समानता का प्रतीक है।

7. वैशाखी का मेला: पंजाब में कई स्थानों पर वैसाखी के मेले लगते हैं, जहां परंपरागत हस्तशिल्प, खाने का सामान, मनोरंजन और कृषि प्रदर्शनी देखने को मिलती है।

8. वैसाखी और जलियांवाला बाग हत्याकांड: 1919 में वैसाखी के दिन ही अमृतसर के जलियांवाला बाग में हुए हत्याकांड को हमेशा याद किया जाता है, जहां बड़ी संख्या में निहत्थे भारतीयों पर अंग्रेजों द्वारा गोलीबारी की गई थी।

9. वैश्विक त्योहार: ब्रिटिश और कनाडा जैसे देशों में भी वहां रहने वाले भारतीय समुदाय द्वारा वैसाखी को हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। न्यूयॉर्क शहर में हर साल वैसाखी परेड का आयोजन किया जाता है, जो दुनिया की सबसे बड़ी पैदल चलने वाली परेडों में से एक है।

10. भाईचारे और खुशियों का प्रतीक: वैसाखी अंततः भाईचारे, सद्भावना और खुशियों का प्रतीक है। यह विभिन्न समुदायों के लोगों को एक साथ आने और एक दूसरे की संस्कृति का जश्न मनाने का अवसर प्रदान करता है।

Baisakhi Baisakhi 2024
Advertisment