10 Things About Losing Virginity: सेक्स करने से पहले यह ज़रूर जान लें

10 Things About Losing Virginity: सेक्स करने से पहले यह ज़रूर जान लें 10 Things About Losing Virginity: सेक्स करने से पहले यह ज़रूर जान लें

Sanjana

10 Aug 2022

वर्जिनिटी वह स्टेट होती है जिसमें आपने कभी किसी के साथ सेक्सुअल संबंध नहीं बनाए होते हैं। अधिकतर लोग वर्जनिटी लूज करने के लिए केवल सही उम्र का इंतजार करते हैं। अपनी किशोरावस्था में प्रवेश करते ही वे उत्साह से भर जाते हैं क्योंकि उन्हें शारीरिक संबंध बनाने और अपनी वर्जिनिटी लूज करने की आजादी मिल जाती है।

लेकिन ऐसी बहुत सी बातें हैं जो हर व्यक्ति को अपनी वर्जिनिटी लूज करने से पहले जरूर पता होनी चाहिए। यह बातें आपको आपके बड़े लोग या दोस्त में से कोई भी नहीं बताएगा। यह बेहद महत्वपूर्ण चीजें हैं जिनके बारे में आपको जरूर पता होना चाहिए।

1. वर्जिनिटी का मतलब सबके लिए अलग

ऐसा जरूरी नहीं है कि वर्जिनिटी कि जो परिभाषा आप देते हैं वह सब के लिए सही हो। सबके लिए वर्जिनिटी का मतलब अलग अलग हो सकता है। कुछ लोगों के लिए वर्जिनिटी का मतलब होता है कि आपने किसी तरह का पेनिट्रेटिव सेक्स ना किया हो। तो वहीं कुछ लोगों के लिए वर्जिनिटी का मतलब पेनिस के साथ वेजाइनल पेनिट्रेशन ना करना हो। 

आपको एक बात का ध्यान रखना है कि आपके लिए इसकी परिभाषा चाहे कुछ भी हो, लेकिन सेक्स केवल तभी करे जब आप इसके लिए तैयार हो और यह आपका फ़ैसला हो। आपको यह नहीं सोचना चाहिए कि आप वर्जिनिटी लूज कर रहे हैं या कुछ हासिल करने वाले है। आपको इससे एक नया अनुभव मिलेगा।

2. सेक्स का मतलब पेनिस का वजाइनल पेनिट्रेशन नही होता

जरूरी नहीं है कि हर किसी के लिए वर्जिनिटी लूज करने याद सेक्स करने का मतलब वैजाइना में पेनिस का पेनिट्रेशन ही हो। कुछ लोग एनल पेनिट्रेशन या सेक्स टॉय और उंगली पेनिट्रेशन करने के बाद भी खुद को वर्जिन बुलाना छोड़ देते हैं। उनके लिए वर्जिनिटी लूज करने का मतलब पेनिस का वजाइनाल पेनेट्रेशन नहीं होता है।

3. शरीर में स्थायी बदलाव नहीं आते है

बहुत से लोगों को ऐसा लगता है कि पहली बार सेक्स करने से उनके शरीर में कुछ बड़े और स्थाई बदलाव आ जाएंगे। यह केवल एक मिथ है। सेक्स करने से आपको कुछ मनोवैज्ञानिक या सेक्सुअल बदलाव देखने को मिल सकते हैं जैसे वुल्वा मे सूजन, पेनिस इरेक्टेशन, पसीना आना, धड़कन तेज होना, आदि। लेकिन यह केवल अस्थायी बदलाव होते हैं जो आपको थोड़ी देर तक ही अनुभव होंगे। 

4. सेक्स के बाद लुक मे कोई बदलाव नहीं आता

कुछ लोगों को लगता है कि सेक्स के बाद उनके बॉडी के लुक और चेहरे पर कोई अलग बदलाव देखने को नहीं मिलते हैं। सेक्स के दौरान कुछ बदलाव आपकों महसूस हो सकते हैं लेकिन यह केवल कुछ देर तक ही होते हैं। उसके बाद आपकी बॉडी अपनी पुरानी नॉर्मल आकार में आ जाएगी। 

कोई आपको देखकर यह नही बता सकता है कि आप अपनी वर्जिनिटी लूज करके आए हैं। यह केवल आपके उसे बताने से ही पता चलेगा।

5. टीवी या पोर्न के सेक्स जैसा नहीं होता

कुछ लोग टीवी या पॉर्न विडियोज़ में सेक्स को देखकर लोग भ्रमित हो जाते हैं। उन्हे लगता है कि सेक्स इतना ही खूबसूरत और रोमांचक होता है। लेकिन हर किसी का पहले समय सेक्स का अनुभव अलग अलग होता है। 

हो सकता है कि आपको यह असलियत में टीवी जितना अच्छा फील न दे। यह जायस भी है क्योंकि पॉर्न में सेक्स सीन को बार बार शूट किया जाता है जबतक वह बेस्ट न दिखे। लेकिन असल जिंदगी बहुत अलग होती है।

6. सेक्स दर्दनाक नहीं हो

पहली बार सेक्स करने पर आपकों शुरु मे असुविधाजनक महसूस हो सकता है। पहली बार पेनिट्रेशन थोडा फ्रिक्शन होना नॉर्मल है जिसके कारण आपको थोडडा अजीब महसूस हो सकता है। लेकिन आपको दर्द नही होना चाहिए। 

सेक्स के दौरान दर्द होने का कारण लुब्रिकेशन की कमी या कोई मेडिकल कंडीशन हो सकती है। अगर आपको यह दर्द हर बार सेक्स करने पर महसूस हो तो आप अपने डॉक्टर से ज़रूर बात करें।

7. लुब्रिकेशन कब चाहिए

वजाइना अपना ल्यूब खुद बनाता है इसलिए यह प्राकृतिक रूप से गीला हो सकता है। वजाइनल ड्राइनेस के कारण जब फ्रिक्शन कम हो जाता है तो सेक्स दर्दनाक हो सकता है। इस समय आपको लुब्रिकेशन करना चाहिए। इससे इरिटेशन कम होगी और आपको अच्छा महसूस होगा। अगर आप एनल पेनिट्रेशन कर रहे हैं तो लुब्रिकेशन की सख्त ज़रूरत है क्योंकि एनस खुद से ल्युब रिलीज़ नही करता है।

8. अधिक खून नही मिलेगा

आप पहली बार सेक्स करते समय थोड़ी बहुत ब्लीडिंग का अनुभव कर सकते हैं। महिलाओं के पास वजाइना होता है जिसमे से हाइमन के पेनिट्रेशन के दौरान स्ट्रेच होने के कारण थोड़ी ब्लीडिंग हो सकती है लेकिन इतनी ब्लीडिंग नही होती है कि आपकी चादर पर आप इसके दाग या निशान पा सके।

9. प्रेग्नेंसी है मुमकिन

अगर आप पहली बार पेनिस का वजाइनल पेनिट्रेशन करते हैं तो आपके प्रेगनेंट होने की पूरी पूरी संभावनाएं हैं। अगर केवल कोई अपने पेनिस से वजाइना के आसपास भी खुद से पेनेट्रेट करे तो प्रेग्नेंसी मुमकिन है। इससे बचने के लिए कॉन्डम का इस्तेमाल करना एक अच्छा विकल्प है।

10. ऑर्गेज्म मिलना ज़रूरी नहीं

यह जरुरी नहीं है कि पहली बार सेक्स करने से आपको ऑर्गेज्म मिलेगा। यह आपकी मेडिकल कंडीशन और कुछ दूसरे फैक्टर पर निर्भर करता है। पहली बार सेक्स थोडा असुविधाजनक हो सकता है। महिलाओं को अधिकतर पहली बार के सेक्स मे ऑर्गेज्म नही मिलता जो आम बात है।

अनुशंसित लेख