ब्लॉग

Raising Sons: 5 बातें जो आपको बतानी चाहिए अपने बेटे को पीरियड्स के बारे में

Published by
Ritika Aastha

बच्चों के लिए प्यूबर्टी का समय बहुत नाज़ुक होता है। इसलिए अगर वो इसको लेकर पहले से प्रीपेयर्ड रहें तो उनके लिए लिए ही अच्छा है। लड़कियों को प्यूबर्टी के बाद पीरियड्स स्टार्ट हो जाते हैं और सोसाइटी में पीरियड एड्युकेशन के अभाव के चलते उन्हें आज भी इसके लिए शेम किया जाता है। अगर एक पैरेंट के नाते आप अपने बेटे को यंग एज से ही पीरियड्स के बारे में सारी बातें समझाएंगे तो वो ना सिर्फ सोसाइटी से पीरियड शमिंग को ख़त्म करने में मदद करेंगे बल्कि आगे जाकर वो “रेस्पोंसिबल मेन” बनेंगे।जानिए ऐसी 5 बातें जो आपको अपने बेटे को बतानी चाहिए पीरियड्स के बारे में:

1. पीरियड क्या होता है?

आम तौर पर लड़कों को पीरियड्स के बारे में लाइफ में बहुत देर से पता चलता है और तब तक उनके दिमाग में इसको लेकर बनाए गए धारणों को चेंज करना बहुत मुश्किल हो जाता है। इसलिए अपने बेटों को पीरियड्स के पूरे प्रोसेस के बारे में अच्छे से समझाएं। उन्हें पता होना चाहिए की ये क्यों होता है और इसका क्या सिग्नीफिकेन्स है। आप चाहे तो इसके लिए किसी हेल्थ एक्सपर्ट की भी मदद ले सकते हैं।

2. पीरियड प्रोडक्ट के बारे में

अपने बेटे को पीरियड प्रोडक्ट्स के बारे में बताना बहुत ज़रूरी है। इससे कारण हो सकता है की वो किसी लकी को पब्लिक में औकवर्ड सिचुएशन में पड़ने से बचा पाए। इसलिए अपने बेटे को पैड्स, टेम्पोंस, और मेंस्ट्रुअल कप्स के बारे में ज़रूर बताएं। आप चाहे तो इसके लिए बनाए गए विज्ञापन की मदद से भी उन्हें ये सब समझा सकते हैं।

3. पीरियड्स नॉर्मल हैं

अपने बेटे को पूरा पीरियड्स के बायोलॉजिकल प्रोसेस समझाएं ताकि उन्हें इस बात का एहसास हो की पीरियड्स नॉर्मल है। जब तक हम पीरियड्स को लड़कियों की लाइफ का एक नॉर्मल पार्ट की तरह एक्सेप्ट नहीं करेंगे इसको लेकर शमिंग ख़त्म नहीं होगी। इसलिए अपने घर से शुरुवात करें और अपने बेटों को पीरियड्स को एक नॉर्मल फेनोमेनन की तरह ट्रीट करने के लिए कहें।

4. क्रैम्प्स रियल होते हैं

अपने बेटों को पीरियड क्रैम्प्स के बारे में बताना बहुत ज़रूरी है ताकि वो कभी लड़कियों के पेन को हलके में ना लें। क्रैम्प्स क्यों होते हैं ये भी उन्हें समझाएं और इससे रिलीफ पाने के तरीकें भी उन्हें बताएं। आपके बेटे को क्रैम्प रिलीफ रोल्स और हॉट वॉटर बैग के बारे में साड़ी जानकारी होनी चाहिए।

5. पीरियड स्टेन्स बिलकुल नॉर्मल है

लड़कों को पीरियड स्टेन्स को लेकर काफी ज़्यादा अजीब फील होता है और उनके इस रिएक्शन के कारण लड़कियों को इसके लिए शर्म महसूस होती है। इसलिए इस बात का ध्यान रखें की आपके बेटे को पीरियड स्टेन्स को नॉर्मलाईज़ करना आए। इससे ना सिर्फ उसमें हर कंडीशन को लेकर एक्सेप्टेन्स बढ़ेगी बल्कि सोसाइटी से पीरियड शमिंग भी जल्दी ख़त्म होगा।

Recent Posts

7 कारण महिलाओं ने सोसाइटी के बनाए इन स्टीरियोटाइप्स का अब बहिष्कार कर दिया है

ये सोसाइटी हमेशा से महिलाओं को उनके किये गए हर काम के लिए जज करती…

9 hours ago

5 सवाल जो हर उस महिला से पूछे जाते हैं जिनके कोई बच्चे नहीं हैं

हमारी सोसाइटी में मदरहुड को आज भी ऑप्शनल नहीं समझा जाता है और यही कारण…

11 hours ago

जानिए किन सेलिब्रिटीज ने अनाउंस की है अभी हाल में अपनी प्रेगनेंसी

साल 2021 में कई सेलिब्रिटी कपल्स जैसे करीना कपूर खान-सैफ अली खान, अनुष्का शर्मा-विराट कोहली,गीता…

12 hours ago

IIM -A के छात्र ने सभी के सामने मां का नाम लेकर किया धन्यवाद

हेट शीतलबेन शुक्ला नाम के एक छात्र ने आईआईएम-अहमदाबाद में अपनी जगह बनाई है। लेकिन…

12 hours ago

मिया खलीफा डिवोर्स: जानिए क्यों दे रही हैं पति को डिवोर्स

भूतपूर्व पोर्न स्टार मिया खलीफा ने अपने वेडिंग रिसेप्शन को कैंसिल कर दिया है और…

14 hours ago

कौन है एना बेन ? काफी चर्चा में है इनकी फिल्म ‘सारा’

एना बेन मलयालम सिनेमा की एक्ट्रेस है। उनकी पहली फिल्म कुंबलंगी नाइट्स थी, जो 2019…

15 hours ago

This website uses cookies.