Celebrities Hit Back At Media: जब सेलेब्रिटीज़ ने मीडिया को सबक सिखाया

Celebrities Hit Back At Media: जब सेलेब्रिटीज़ ने मीडिया को सबक सिखाया Celebrities Hit Back At Media: जब सेलेब्रिटीज़ ने मीडिया को सबक सिखाया

Monika Pundir

02 Jun 2022

Celebrities Hit Back At Media: मीडिया को प्रजातंत्र या डेमोक्रिसी का 4th पिलर का है जाता है, यह जाताने के लिए की एक स्वस्थ डेमोक्रेसी में मीडिया की कितनी अहमियत है। मीडिया की इस अनमोल रोल के बावजूद, कई बार मीडिया ही स्टीरियोटाइप फ़ैलाने और इंसेन्सिटिव सवाल पूछने का काम करती है। कियारा अडवाणी को ‘सेटल डाउन’ होने के बारे में पूछने जैसे सवालों से हमें ऐसे मीडिया के सिमिलर इंसेन्सिटिव कमेंटस की याद अति है। इस ब्लॉग में कुछ ऐसी घटनाएं हैं जिसमें सेलेब्रिटीज़ ने मीडिया को उनके सवालों के लिए सबक सिखाया।

जब सानिया मिर्जा की 'सेटल' होने की सवाल देश भर की महिलाओं के साथ गूंजती रही। 

जब सानिया मिर्जा से राजदीप सरदेसाई ने 'सेटल’ होने- यानी शादी और मातृत्व के लिए राष्ट्रीय स्तर पर स्वीकृत यूफेमिस्म, पर सवाल किया  तो उन्होंने तुरंत इशारा किया कि यह कितनी निराशी की बात है कि शादी के सामने महिलाओं की उपलब्धियां फीकी पड़ जाती हैं। राजदीप सरदेसाई ने तुरंत ही अपनी गलती स्वीकार की और पूछताछ के लिए माफी मांगी। उन्होंने स्वीकार किया की किसी मेल सेलिब्रिटी के लिए उनके दिमाग में शायद ऐसा सवाल नहीं आता।

जब विद्या बालन ने बड़ी चतुराई से अपने शरीर पर सवाल बंद कर दिए।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान, एक इंटरव्यूअर ने सोचा कि विद्या से यह पूछना पूरी तरह से स्वीकार्य है कि क्या वह अपना वजन कम करना चाहती हैं, या'महिला केंद्रित फिल्म भूमिकाओं' करते रहना चाहती है। उनकी यह सवाल इस बात पर प्रकाश डाला कि बॉडी शेमिंग कभी भी स्वीकार्य क्यों नहीं है। उन्होंने कहा की वे अपने काम से बहुत खुश हैं, और लोगों को अपनी सोच बदलने की ज़रूरत है। 

जब परिणीति चोपड़ा ने एक पत्रकार को सिखाया कि पीरियड्स पर बातचीत क्यों जरूरी है। 

सैनिटरी नैपकिन के लिए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा से इंटरव्यूअर ने पीरियड्स के लिए 'समस्या' प्रयोग  किया और परिणीति ने उन्हें, और समाज को, एक बहुत जरूरी सबक सिखा दिया। उन्होंने बहुत रिस्पेक्टफुली कहा की एक एडल्ट आदमी को पता होना चाहिए कि पीरियड समस्या नहीं बल्कि पीरियड्स का न होना एक लड़की के शरीर में समस्या का संकेत है। उन्होंने साथ ही कहा की इंटरव्यूर की पिता बनने जितनी उम्र हो गयी है और उनकी बेटी भी हो सकती है यह घटना स्कूल में सेक्स एड्यूकेशन की आवश्यकता दर्शाता है।

जब परिणीति चोपड़ा ने शादी से पहले सेक्स के बारे में इल्लोजिकल सवालों का बखूबी जवाब दिया। 

शुद्ध देसी रोमांस  के प्रचार के दौरान एक पत्रकार ने परिणीति से विवाह के पूर्व सेक्स के बारे में पूछा और दावा किया कि युवा महिलाएं 'इसका आनंद लेती है' लेकिन जब उनकी उम्र हो जाती हैं, तो वे दावा करती हैं कि 'पुरुषों ने उनका शोषण किया'। परिणीति ने उन्हें वह सब कुछ बता दिया जो उनकी विचारधारा और स्टेटमेंट कितना गलत था। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा की जब सेक्स या किस या हग होती है तो उसमें दो लोगों की अनुमति होती है, और बिना अनुमति या ‘बौडिली एक्सप्लोइटेशन’ का अर्थ है रेप।

जब मिताली राज ने सेक्सिस्ट सवाल के जवाब दिए

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक रिपोर्टर ने क्रिकेटर मिताली राज से पूछा कि उनका पसंदीदा 'पुरुष' क्रिकेटर कौन है - और यह निश्चित रूप से पहली बार नहीं था जब उनसे ऐसा पूछा गया था।  उन्होंने तुरंत रिपोर्टर को बताया कि क्या गलत था प्रश्न में। उन्होंने रिपोर्टर से पूछा की क्या एक मेल खिलाडी से ऐसा सवाल पूछा जाएगा।

अनुशंसित लेख