सेक्सलेस मैरिज का मतलब होता है कि वैसे कपल जो एक दूसरे के साथ सेक्सुअल एक्टिविटी में इंगेज नहीं है। हमारे लिए जितना प्यार जरूरी है उतना ही चरम संतुष्टि भी आवश्यक है। सेक्स हमें संतुष्टि, खुशी देती है और इसकी ज़रूरत आदमी और औरत दोनों को होती हैं। वहीं सेक्स किसी भी कपल के बीच में रिलेशनशिप को मजबूत बनाने का एक अहम तरीका है। लेकिन सेक्सलेस मैरिज के कारण कई रिलेशनशिप बिगड़ जाते हैैं। कई लोगों की जिंदगी में यह डिवोर्स का कारण भी बन जाता है। लेकिन सेक्स के कारण किसी भी रिलेशनशिप को तोड़ना उसका हल नहीं है। सेक्सलेस मैरिज से परेशान होने के बजाय हमें उसका उपाय ढूंढना चाहिए।

1. खुल कर बात करें

अपने पति या पत्नी से इस बारे में प्यार से बात करें। उन पर दबाव ना डालें इस कारण वह शायद आपसे खुलकर बात ना कर पाएं। दरअसल शारीरिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वास्थ्य सेक्स के लिए रुचि ना आने का कारण हो सकता है। जैसे कि डायबिटीज़, हाई ब्लड प्रेशर, डिप्रेशन, एंजायटी ऐसी कई समस्याएं हो सकती है।

2. डॉक्टर की मदद लें

यदि मानसिक या शारीरिक स्वास्थ्य से जुड़ी कोई समस्या है तो डॉक्टर के पास जाने से ना कतराएं। वह इससे जुड़ी समस्या का समाधान निकालने में मदद करेंगे। इसके अलावा आप काउंसलिंग या कपल सेक्स थेरेपी जैसे प्रोफेशनल की मदद भी लें सकते है।

3. नज़दीकियां बढ़ाएं

हम अक्सर अपने काम में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि अपने पार्टनर के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं। सेक्सलेस मैरिज का यह सबसे बड़ा कारण है। इसीलिए थोड़ा समय निकालकर उनके साथ समय बिताएं घूमने जाएं , डेट पर जाइए जिससे उन्हें भी अच्छा लगे। कभी-कभी रिलेशनशिप में स्पार्क खत्म हो जाने के कारण भी इंटरेस्ट कम हो जाता है।

4. कनेक्शन बनाएं

दरअसल हम इतने व्यस्त हो जाते हैं कि अपने पार्टनर को एहसास करवाना भूल जाते हैं कि वह कितने जरूरी हैं। जिसके कारण रिलेशनशिप में कनेक्शन कम हो जाता है। अपने पार्टनर के साथ पहले की तरह कनेक्शन बनाएं। उन्हें महसूस करवाया कि वह आपके लिए कितने जरूरी हैं और प्यार भरी बातें करें।

सेक्सलेस मैरिज से परेशान होकर डिवोर्स लेना सही उपाय नहीं है। हमें अपने पार्टनर की समस्याओं को समझ कर दूर करने में मदद करनी चाहिए। क्योंकि किसी भी रिलेशनशिप या मैरिज में सेक्स से ज्यादा जरूरी प्यार होता है।

Email us at connect@shethepeople.tv