Asha Parekh: भारतीय महिलाओं को शादियों में वेस्टर्न गाउन पहनने पर आशा पारेख ने लगाई फटकार

एक फिल्म फेस्टिवल में आशा पारेख ने चर्चा की कि समय के साथ फिल्में कैसे बदल गई हैं और यह कहा कि हम अपनी संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए पर्याप्त नहीं कर रहे हैं। आइए जानते हैं पूरी खबर इस ब्लॉग में -

Vaishali Garg
29 Nov 2022
Asha Parekh: भारतीय महिलाओं को शादियों में वेस्टर्न गाउन पहनने पर आशा पारेख ने लगाई फटकार

Asha Parekh

Asha Parekh: एक फिल्म फेस्टिवल में आशा पारेख ने चर्चा की कि समय के साथ फिल्में कैसे बदल गई हैं और यह कहा कि हम अपनी संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए पर्याप्त नहीं कर रहे हैं। आशा पारेख जी गोवा में हो रहे 53वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के एक सत्र में बोल रही थीं।

आशा पारेख ने बताया कि 'यह दुखद है कि भारतीय महिलाएं अपनी शादियों में घाघरा-चोली जैसे अधिक पारंपरिक परिधानों के बजाय पश्चिमी शैली के गाउन और पोशाक पहनना पसंद करती हैं।'

Asha Parekh: भारतीय महिलाओं को शादियों में वेस्टर्न गाउन पहनने पर आशा पारेख ने लगाई फटकार

आशा पारेख जी ने कहा, “सब कुछ बदल गया है। जो फिल्में बन रही हैं... मुझे नहीं पता, हम इतने पाश्चात्य हैं। गाउन पहनने के वेडिंग पर आ राही हैं लड़कियां। अरे भइया, हमारी घाघरा चोली, सरियां और सलवार-कमीज है आप वो पहनो ना।

उन्होंने कहा, "आप उन्हें क्यों नहीं पहनते?  वे पर्दे पर सिर्फ एक्ट्रेस को देखते हैं (और उनकी नकल करना चाहते हैं)। स्क्रीन पे देख के वो जो कपड़े पहने रहेंगे उस तरह के कपड़े हम भी पहनेंगे...मोटे हो, या जो, हम वहीं फेंगें। ये वेस्टर्न हो रहा है मुझे दुख होता है। जब मैं इस पश्चिमीकरण को देखती हूं, तो मुझे दुख होता है)। हमारे पास इतना अच्छा नृत्य, संगीत और संस्कृति है कि हम इसे पॉप संस्कृति में वापस ला सकते हैं।

जया बच्चन ने पहले महिलाओं के फैशन के पश्चिमीकरण पर कमेंट करते हुए कहा था कि, “मुझे लगता है कि जो कुछ हुआ है वह बहुत अनजाने में हुआ है; हमने स्वीकार किया है कि पश्चिमी पहनावा अधिक है... यह एक महिला को वह जनशक्ति देता है।

आशा पारेख जी ने इस दावे को भी संबोधित किया कि वह इस अफवाह के कारण दिलीप कुमार के साथ काम करने से बचती थीं कि वह उन्हें पसंद नहीं करती थीं। उन्होंने कहा, 'चार-पांच साल पहले एक जर्नलिस्ट ने दावा किया था कि मैंने दिलीप कुमार के साथ काम करने से इसलिए परहेज किया क्योंकि मैं उन्हें पसंद नहीं करती थी। मैं उन्हें पसंद करती थी और हमेशा उनके साथ काम करना चाहती थी। मैंने उनके साथ ज़बरदस्त नामक फिल्म की पटकथा सह-लेखन की। हम टीम बनाने वाले थे, लेकिन मेरी किस्मत खराब थी, इसलिए फिल्म को रोक दिया गया था।


Read The Next Article