ऐसे तो हमने दीपिका पादुकोण की काफी सारी फिल्में देखी हैं पर उनमें से दिल छू लेने वाली सबसे खूबसूरत फिल्म रही है ये जवानी है दीवानी। यह जवानी है दीवानी आज पूरे 8 साल होने को आए हैं पर यह फिल्म और इसके डायलॉग आज भी लोगों के दिल छूते हैं :

ये जवानी है दीवानी के बेस्ट डायलॉग

1. ” कभी-कभी कुछ बातें हमारी यादों के कमरे कि इतनी खिड़कियां खोल देती हैं कि हम दंग रह जाते हैं “

दोस्तों के साथ बिताए गए पलों को याद करते हुए दीपिका पादुकोण इस डायलॉग को कहती है जहां उनकी आंखों में उनके अतीत के सुनहरे पल चमकते हुए से दिखते हैं।

2. ” तुम जानते नहीं कि अपने पुराने दोस्तों के साथ बैठकर वही पुराने किस्से दोहराना क्या होता है”

यह डायलॉग दीपिका पादुकोण रणबीर कपूर से बात करते हुए कहती हैं जिसमें वह रणबीर कपूर को दोस्तों के साथ बिताए गए पलों की वैल्यू करने को बोलती हैं।

3. ” जितना भी ट्राई करो , लाइफ में कुछ ना कुछ तो छूटेगा ही, तो जो जहां है, वहीं का मजा लेते हैं”

इस फिल्म का यह डायलॉग शायद देखने वाले हर इंसान के दिल को छू गया होगा। यह डायलॉग लोगों को उनकी जिंदगी को पूरी तरह जीने की एडवाइस की तरह कहा गया है।

4. “यादें मिठाई के डिब्बे की तरह होती है एक बार खुला तो सिर्फ एक टुकड़ा नहीं खा पाओगे”

कितना ही सच लगता है ना यह डायलॉग। यह हमें एहसास दिलाता है की यादों का पिटारा जब भी खोलेगा हम अपनी खुशी को संभाल नहीं पाएंगे।

5. ” तुम गलत नहीं हो, बस मुझसे बहुत अलग हो “

नैना aka दीपिका पादुकोण का यह डायलॉग लोगों को यह सिखाता है कि दुनिया में हर प्रकार के लोग हैं। जरूरी नहीं कि अगर तुम सही हो तो सामने वाला गलत ही होगा। यह डायलॉग अंडरस्टैंडिंग होने का प्रतीक है।

तो यह थे ये जवानी है दीवानी से दीपिका पादुकोण के पांच बेहतरीन डायलॉग।

Email us at connect@shethepeople.tv