बिहार की सरकार ने स्कूलों और कॉलेजों सहित सभी एजूकेशनल इंस्टिट्यूशन्स को 4 जनवरी, 2021 से दोबारा खोलने का निर्णय लिया है। हाल ही में बिहार एजूकेशन डिपार्टमेंट ने बिहार मे स्कूल्स और कॉलेजेस को रीओपन करने के लिए कोविड-19 सुरक्षा दिशा-निर्देश(सेफटी गाइडलाइंस) की लिस्ट जारी की है।

बिहार की सरकार ने कोविड-19 पैनडमिक के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए और 22 मार्च से केंद्र सरकार द्वारा लगाए गए नेशनवाइड लॉकडाउन का पालन करते हुए, प्रदेश की सभी स्कूलों और कॉलेजों और अन्य सभी सक्षणिक संस्थानों(एजूकेशनल इंस्टिट्यूशन्स) को बन्द कर दिया था।

बिहार एजूकेशन डिपार्टमेंट ने क्लासरूम्स में 50% स्ट्रेंथ के साथ स्कूल्स खोलने का निर्णय लिया है ताकि कोरोना काल में क्लास में सोशल डिस्टेंसिंग बनाई जा सके और स्कूल के कॉमन एरियाज़ में भीड़ न बढ़े ।

बिहार की सरकार ने एजूकेशनल इंस्टिट्यूशन्स रीओपेन करने का यह फैसला एक क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप(CMG) मीटिंग में 18 दिसंबर, 2020 को लिया।

बिहार एजूकेशनल डिपार्टमेंट ने यह अनाउंसेमेंट की है कि प्रदेश के सभी प्राइवेट स्कूल्स, सरकारी स्कूल्स, कोचिंग इंस्टिट्यूशन्स, कॉलजेस, MBBS व इंजीनियरिंग इंस्टिट्यूट्स वग़ैरह 4 जनवरी से खुल जाएँगे।

बिहार की सरकार ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर्स (SOP) इशू कर दिया है और सभी इंस्टिटूट मैनेजमेंट्स से अपने इंस्टिट्यूटस में इन रूल्स को स्ट्रिक्टली फॉलो करने के लिए कहा है।

4 जनवरी, 2021 से फ़िसिकल क्लासेस स्कूल मे केवल कक्षा 9वीं से 12वीं तक के बच्चों की, कॉलजेस और यूनिवर्सिटीज़ में केवल फाइनल इयर के बच्चों की और रिसर्च के बच्चों की ही लगेंगी। बाकी क्लासेस की खुलने की डेट सरकार 18 जनवरी तक बताएगी।

सरकार ने ये भी ऐलान किया है कि क्लासेस शुरू होने से पहले सरकारी स्कूल्स के बच्चों को मास्क्स के 2 सेट दिये जाएँगे।
सरकार ने कोचिंग इंस्टिट्यूट्स से रेगुलर क्लासेस लगाने का एक प्लान सबमिट करने को कहा है जिसके मुताबिक सरकार तय कर सकेगी कि कोचिंग इंस्टिट्यूशन्स में किस तरह से रेगुलर क्लासेस लगेंगी।

Email us at connect@shethepeople.tv