Birth Control Methods : बर्थ कंट्रोल मेथड्स के फायदे और नुकसान - Part 2

Birth Control Methods : बर्थ कंट्रोल मेथड्स के फायदे और नुकसान - Part 2 Birth Control Methods : बर्थ कंट्रोल मेथड्स के फायदे और नुकसान - Part 2

SheThePeople Team

18 Jun 2021

प्रेगनेंसी से बचने के ऐसे काफ़ी सारे मेथड्स हैं जो हम नहीं जानते पर हमें जानने चाहिए क्योंकि इससे हमें किसी एक ही चीज पर निर्भर रहने की जरूरत नहीं रहती। पिछले ब्लॉग में हमने तीन बर्थ कंट्रोल मेथड्स जाने थे, आइए उसी को आगे बढ़ाते हुए और भी प्रकार के बर्थ कंट्रोल मेथड्स 2 जानते हैं

बर्थ कंट्रोल मेथड्स पार्ट 2


1. पैच


पैच एक प्रकार का फेक टैटू होता है जो प्रेगनेंसी को रोकता है। इसे आप अपने हाथ, बट या बैक पर लगा सकते हैं जिससे यह एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टिन इन आपके शरीर में रिलीज करना शुरू करेगा। ये दोनो ही हार्मोन प्रेगनेंसी को रोकने में मदद करते हैं।

फायदे : यह 99 प्रतिशत प्रभाव कारी होता है। इसे आपको लगाने के बाद एक हफ्ते तक कोई और चिंता नहीं करनी होती है।

नुकसान : इसके side-effects काफ़ी देखने को मिल सकते हैं। इससे आपको नजला, सिर दर्द, स्किन इरिटेशन इत्यादि की समस्या हो सकती है। हफ्ते में एक बार न बदलने से काफी समस्या हो सकती है।

2. रिंग


ये एक 2 इंच चौड़ी plastic ring होती है जो एक बड़े छल्ले की तरह दिखती है। ये हमेशा डॉक्टर द्वारा ही लिया जाना चाहिए क्योंकि इसमें प्रोजेस्ट्रोन और एस्ट्रोजन होते हैं। ये आपके वजाइन| में ओवुलेशन को रोक कर प्रेगनेंसी का खतरा कम करती है।

इसे महीने में तीन हफ्तों के लिए वजाइन| में लगाया जाता है और पीरियड के दौरान हटा दिया जाता है।

फायदे : ये 99% तक प्रभावकारी होते हैं। इसे लगाने के 3 हफ्तों बाद तक आप निश्चिंत होकर कुछ भी कर सकती हैं। कुछ लोगों का कहना होता है कि ये एक्ने खत्म करने, पीरियड फ्लो कम करने और उन्हें ज्यादा रेगुलर बनाने में मदद करते हैं।

नुकसान : सिर में दर्द और ब्रेस्ट टेंडरनैस इसके आम साइड इफेक्ट्स है। साथ ही पीरियड्स के दौरान इसको हटाने के बाद भी आपको प्रोटेक्शन इस्तेमाल करनी ही चाहिए।

3. मिनी पिल्स


यह पिल्स सिर्फ प्रोजेस्टिन की पिल्स होती हैं जिन्हें प्रिस्क्रिप्शन के साथ लेना जरूरी है। यह पिल ओवुलेशन रोक कर प्रेगनेंसी के चांस खत्म करती है।

फायदे : ये ब्रेस्टफीडिंग महिलाएं भी के सकती हैं।इससे पीरियड्स के सिम्पटम्स कम देखने को मिलते हैं

नुकसान : इसे हर रोज एक ही समय पर लेना होता है वरना प्रभाव जीरो हो सकता है। कुछ लोग इसे लेने के बाद एक्ने की समस्या भी देखते हैं।

तो ये थे बर्थ कंट्रोल मेथड्स पार्ट 2

अनुशंसित लेख