बहुत सारे लोग जिन्हें ब्लैडर लीक्स ( Bladder Leaks in Hindi) की समस्या है, वे इसे किसी से share नहीं करते, और डॉक्टर से भी बात करते वक़्त शर्माते और हिचकिचाते हैं। Bladder Leaks की प्रॉब्लम आपकी pelvic muscles से जुड़े प्रॉब्लम को दिखाता है, जो अगर इग्नोर किया जाए तो और बढ़ जाती है। 

image

तो आइए जानते हैं ब्लैडर लीक्स  (Bladder Leaks in Hindi) कैसे और क्यों होती है, और इसका इलाज क्या है।

ब्लैडर लीक्स (Bladder Leaks in Hindi) क्या होता है?

जब हमारे ब्लैडर में यूरिन भर जाता है तो इसकी तरफ से एक सिग्नल हमारे brain को भेजा जाता है, इसी से हमें यूरिन जाने का अहसास होता है। लेकिन जब ब्लैडर बहुत अधिक ऐक्टिव हो जाता है तो यह यूरिन को बिल्कुल भी होल्ड नहीं कर पाता है और थोड़ा-सा यूरिन जमा होने पर ही बहुत तेज प्रेशर बनने लगता है। इससे यूरिन कपड़ों में ही लीक हो जाती है, इसे ही ब्लैडर लीक्स ( Bladder Leaks in Hindi) कहते हैं।

हालांकि बहुत ज्यादा ऐक्टिव ब्लैडर का कोई कारण अभी तक साफ नहीं है लेकिन इतनी बात जरूर साफ है कि ज्यादातर महिलाओं में ओवर ऐक्टिव ब्लैडर (over active bladder) की वजह से स्ट्रेस और तनाव देखने मिलता है। और कुछ महिलाओं में मानसिक और शारीरिक दोनों तरह का तनाव देखे जाते हैं।

Bladder Leaks होने के कारण

  • Bladder Leaks का मुख्य कारण पेल्विक मसल्स का कमजोर होना है। महिलाओं में बच्चे के जन्म के बाद जब वजन ज्यादा बढ़ जाता है जिससे pelvic muscles पर जोर पड़ता है और bladder की प्रॉब्लम शुरु हो जाती है।  
  • कई बार pre- menopause स्थिति में और बढ़ती उम्र के कारण पेट के निचले हिस्से के muscles कमजोर हो जाती हैं। इस कारण खांसते, छींकते या एक्सरसाइज़ करते समय यूरिन लीक होने की समस्या शुरू हो जाती है। 
  • कुछ लोगों में शारीरिक कमजोरी या किसी लंबी बीमारी या सही डाइट ना मिलने पर भी यूरिन लीक होने की समस्या देखने को मिलती है।

डॉक्टर को Bladder Leaks के बारे में बताने से हिचकिचाएँ नहीं।

Bladder Leaks में शर्माने वाली कोई बात नहीं है, कितने ही लोग इससे जूझते हैं लेकिन शर्म के कारण इसे बताते नहीं। जबकी Bladder Leaks या overactive bladder से तनाव और स्ट्रेस भी कई गुना बढ़ जाता है, इसमें शर्म की कोई बात नहीं। आप इस समस्या के बारे में ज़रुर अपने डॉक्टर से बात करें।

और याद रखें, आपका डॉक्टर कभी भी इस बात पर आपको जज नहीं करेंगें, बल्कि वे आपकी कंडिशन को बेहतर समझ पाएँगे अगर आप खुलकर इस बारे में उन्हें बताएँगे।

और पढ़ें: आखिर Vaginismus क्या होता है? जानें डॉक्टर तान्या से

Email us at connect@shethepeople.tv