Advertisment

महिलाओं को अधिक मेकअप करने से होने वाले 5 नुकसान

मेकअप का उपयोग सौंदर्य को बढ़ाने के लिए किया जाता है, लेकिन अत्यधिक मेकअप करने से त्वचा और स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकते हैं। यहां महिलाओं को अधिक मेकअप करने से त्वचा की समस्या शुरू हो जाती है।

author-image
Pushpa Chauhan
New Update
Makeup(Freepik)

Image credit - image file

Five Disadvantages Of Wearing Too Much Makeup For Women: मेकअप का उपयोग सौंदर्य को बढ़ाने के लिए किया जाता है, लेकिन अत्यधिक मेकअप करने से त्वचा और स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकते हैं। यहां महिलाओं को अधिक मेकअप करने से त्वचा की समस्या शुरू हो जाती है। बहुत महिलाएं मेकअप तो करती हैं लेकिन सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना भूल जाती हैं। जिससे त्वचा सूर्य के हानिकारक प्रभावों के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाती है, जिससे समय से पहले बुढ़ापा आने लगता है।

Advertisment

महिलाओं को अधिक मेकअप करने से होने वाले 5 नुकसान

1. त्वचा की समस्याएं

मुंहासे और पिंपल्स की भारी मेकअप उत्पादों का उपयोग त्वचा के छिद्रों को बंद कर सकता है, जिससे मुंहासे और पिंपल्स की समस्या बढ़ सकती है। रैशेज और एलर्जी जैसी समस्या होने लगती है। मेकअप उत्पादों में उपयोग होने वाले रसायनों से त्वचा पर रैशेज, जलन और एलर्जी हो सकती है।

Advertisment

2. त्वचा की उम्र बढ़ने की गति

झुर्रियां और फाइन लाइन्स मेकअप का ज़्यदा उपयोग करने से त्वचा की प्राकृतिक नमी खो सकती है, जिससे झुर्रियां और फाइन लाइन्स जल्दी दिखने लगती हैं। अत्यधिक मेकअप से त्वचा की लोच कम हो सकती है, जिससे त्वचा ढीली और उम्रदराज दिखने लगती है।

3. संक्रमण का खतरा

Advertisment

बैक्टीरिया और फंगल संक्रमण  मेकअप ब्रश और स्पंज को ठीक से साफ न करने पर इनमें बैक्टीरिया और फंगस पनप सकते हैं, जिससे त्वचा संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। आंखों के संक्रमण आई मेकअप उत्पादों का ज़्यदा उपयोग या पुराने उत्पादों का उपयोग आंखों में संक्रमण पैदा कर सकता है, जैसे कि पिंक आई।

4. त्वचा का रंग बदलना

हाइपरपिगमेंटेशन जैसे कुछ मेकअप उत्पादों में पाए जाने वाले हानिकारक प्रोडक्ट त्वचा का रंग बदल सकते हैं, जिससे हाइपरपिगमेंटेशन या डार्क स्पॉट्स की समस्या हो सकती है। टैनिंग और स्किन टोन का असमान होना, कुछ मेकअप उत्पादों का लंबे समय तक उपयोग त्वचा के रंग को असमान बना सकता है।

5. प्राकृतिक सुंदरता में कमी

त्वचा की प्राकृतिक चमक खोना नियमित मेकअप के उपयोग से त्वचा की प्राकृतिक चमक कम हो सकती है, जिससे त्वचा मुरझाई और बेजान दिखने लगती है। लगातार मेकअप के उपयोग से प्राकृतिक सुंदरता पर आत्म-विश्वास कम हो सकता है और महिलाओं को बिना मेकअप के आत्म-संतुष्टि की कमी महसूस हो सकती है। इन नुकसानों को कम करने के लिए यह महत्वपूर्ण है कि मेकअप को संतुलित तरीके से और अच्छे गुणवत्ता वाले उत्पादों का उपयोग किया जाए। साथ ही, मेकअप को ठीक से हटाना और त्वचा की नियमित देखभाल की जरुरत होती है।

makeup त्वचा
Advertisment